40 सालों में पहली बार दुनिया में तेजी से बढ़ रही है महंगाई, जानिए आखिर ऐसा क्‍या हुआ है



 इस समय भारत समेत पूरी दुनिया महंगाई से परेशान है. एक स्‍टडी की मानें तो पूरी दुनिया में कीमतों के दाम आसमान छू रहे हैं. एक स्‍टडी की मानें तो पिछले 40 सालों में यह पहला मौका है जब जरूरी सामानों की कीमतों में इस कदर इजाफा हो रहा है. इस स्‍टडी ने विशेषज्ञों को परेशान कर दिया है और वो आने वाले दिनों में मुश्किलों में इजाफा होने की बात कर रहे हैं.


इनफोलाइन की तरफ से हुए सर्वे की मानें तो इस वर्ष विश्‍वभर में खाने-पीने की चीजों के दामों में बेतहाशा वृद्धि हुई है. प्राइस इंडेक्‍स पहली बार 27 फीसदी से ज्यादा बढ़ गया है. इनफोलाइन एक इनफॉर्मेशन और एनालिटिकल एजेंसी है.

1970 के बाद से पहला मौका

इनफोलाइन के सीईओ इवान फेडाकोव ने एक इंटरव्‍यू में कहा, ‘सन 1970 के दशक के बाद से यह पहला मौका है जब चारों तरफ कीमतों में इजाफा हो रहा है. उस समय भी यही हालाता थे मगर तब महंगाई में जो इजाफा हुआ था वो वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था में बदलाव की वजह से हुआ था. पिछले 40 वर्षों से इस तरह से कभी भी दाम इतनी तेजी से नहीं बढ़े जितनी तेजी से अब बढ़ रहे हैं.’ उन्‍होंने कहा कि अलग-अलग चीजों के दामों में अलग-अलग तरह से इजाफा हो रहा है. सिर्फ फल और सब्जियां या दूध महंगा हो रहा है, ऐसा नहीं है. बल्कि खेती के लिए जरूरी सामान और कीटनाशक भी महंगे होते जा रहे हैं.


महंगाई से परेशान दुनिया

इवान ने कहा है कि आने वाले दिनों में महंगाई पर नियंत्रण होगा, ऐसा नहीं है. महंगाई बढ़ेगी लेकिन सवाल ये है कि लोगों की खरीदने की क्षमता बढ़ती है या नहीं. उनका मानना है कि जिस तरह से महंगाई बढ़ रही है, उस तरह से लोगों की खरीदने की क्षमता में भी इजाफा होगा और ये सीमित नहीं होगी. यूरोपियन एजेंसी यूरोस्‍टेट के मुताबिक इस वर्ष सितंबर के महीने में यूरोजोन में सालाना महंगाई 13 साल के सबसे ज्‍यादा स्‍तर पर पहुंच गई थी.


इसकी वजह थी एनर्जी या ऊर्जा के दामों में तेजी आना. साथ ही नैचुरल गैस की कीमतों का बढ़ना. सितंबर 2008 के बाद यूरोप ने महंगाई का यह स्‍तर छुआ है. यूरोस्‍टेट के आंकड़ों के मुताबिक खाने-पीने की चीजों से लेकर, एल्‍कोहल और तंबाकू तक के दामो में औसतन 2.1 फीसदी का इजाफा हुआ है.


विशेषज्ञ बोले महंगाई की आदत डालनी होगी

मिगुएल पेट्रीसियो जो क्राफ्ट हाइन्‍ज के मुखिया हैं उन्‍होंने भी एक इंटरव्‍यू में कहा है कि लोग आने वाले समय में महंगाई के आदी हो जाएंगे. क्राफ्ट हाइन्‍ज दुनिया की नंबर वन कंपनी है जो खाने-पीने का सामान जैसे सॉस आदि तैयार करती है. उनका कहना था कि इस समय दुनिया के लगभग सभी देशों में महंगाई बढ़ रही है और अब इस पर काबू कर पाना मुश्किल है.


यूएन फूड एंड एग्रीकल्‍चर ऑर्गनाइजेशन की तरफ से कहा गया है कि अनाज से लेकर तेल के दाम बढ़े हैं और इसकी वजह से ग्‍लोबल फूड प्राइस 10 साल के सर्वोच्‍च स्‍तर पर पहुंच गई है. महामारी के दौरान कई देशों में कच्‍चे सामान फसल से लेकर वेजीटेबल ऑयल तक के उत्‍पादन में गिरावट आई है. वायरस को रोकने के लिए जो प्रतिबंध लगाए गए उनके कारण आउटपुट सीमित रहा और अब नतीजे सामने हैं.

ये खबरें भी पढ़ें

  • रेलवे ने रातों रात लिया बड़ा फैसला, आज से 8 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू
  • Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

    Post a Comment

    0 Comments