अगर ऐसे करेंगे इन्वेस्ट, तो केवल 12 साल में बन जाएंगे करोड़पति

 


जो लोग पहले इस अवसर का लाभ नहीं ले सके, वे अब जल्द से जल्द रिटायरमेंट फंड बनाने के लिए एसआईपी के जरिए म्यूचुअल फंड में आक्रामक रूप से निवेश कर रहे हैं. इक्विटी म्यूचुअल फंड बाकी एसेट क्लास की तुलना में तेजी से पैसा जनरेट करने की क्षमता रखते हैं. वित्तीय योजनाकार कहते हैं कि जो लोग 40 वर्ष की आयु के करीब हैं और अभी भी अपने रिटायरमेंट के लिए निवेश नहीं किया है, वे अगर म्यूचुअल फंड में SIP रूट से निवेश करें तो अगले 10-12 साल में एक बड़ा फंड बना सकते हैं.


हर महीने इतना करना होगा निवेश

12 साल में, अगर कोई व्यक्ति नियमित रूप से SIP उपयोग करके निवेश करता है, तो म्यूचुअल फंड से 12% के रिटर्न की उम्मीद कर सकता है. 12 फीसदी के अपेक्षित रिटर्न के आधार पर एक व्यक्ति को अगले 12 साल में 1 करोड़ रुपये का फंड बनाने के लिए हर महीने SIP के जरिए 31342 रुपये का निवेश करना होगा. 


स्टेप-अप एसआईपी के जरिए भी कर सकते हैं निवेश

अगर आप इतने पैसे का इन्वेस्ट नहीं कर सकते तो इस फंड को बनाने का दूसरा तरीका स्टेप-अप एसआईपी (step-up SIP) है, जिसमें आपको एक छोटी राशि से शुरुआत करनी होगी और फिर आपको हर साल अपने SIP निवेश को एक निश्चित प्रतिशत तक बढ़ाना होगा.   

हर साल 10% बढ़ाएं SIP

अगर आप अगले 12 साल तक हर साल SIP निवेश में 10% बढ़ाएंगे. तो आपको 1 करोड़ रुपए का फंड प्राप्त करने के लिए 20680 रुपए के एसआईपी के साथ शुरुआत करने की जरुरत है. इसके बाद हर साल एसआईपी राशि में 10-10 फीसदी का इजाफा करते रहें. 

इन फंड्स में करें निवेश

फाइनेंशियल एक्सपर्ट का कहना है कि एक फंड में सारी राशि डालने के बजाय इस पैसे को कुछ इंडेक्स फंड सहित 3-4 अलग-अलग इक्विटी म्यूचुअल फंड योजनाओं में निवेश करें. अगर आप 12 साल तक के लिए इन्वेस्ट करते हैं, तो मिड स्मॉल-कैप फंड और सेक्टर फंड से बचने की कोशिश करें. लेकिन आप ILSS फंड में पैसा निवेश कर सकते हैं, जिसमें सेक्शन 80C के तहत टैक्स बेनिफिट ऑफर करते हैं. इसके अलावा आप केनरा रोबेको इमर्जिंग इक्विटीज फंड, एक्सिस लॉन्ग टर्म इक्विटी फंड, मिरे एसेट लार्ज कैप फंड, पराग पारिख फ्लेक्सीकैप फंड और एचडीएफसी / आईसीआईसीआई / एसबीआई निफ्टी इंडेक्स में भी इन्वेस्ट कर सकते हैं.

ये खबरें भी पढ़ें

  • रेलवे ने रातों रात लिया बड़ा फैसला, आज से 8 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू

  • Post a Comment

    0 Comments