बिहार का “English Coolie Man”, बिना कोई डिग्री बोलते है फर्राटेदार अंग्रेज़ी, मजबूत ऐसे हुई अंग्रेज़ी

बिहार का “English Coolie Man”, बिना कोई डिग्री बोलते है फर्राटेदार अंग्रेज़ी, मजबूत ऐसे हुई अंग्रेज़ी


 बिहार राज्य को लोग अक्सर ग़रीबों और पिछड़ों का राज्य कह कर सम्बोधित करते हैं। परंतु शायद उन्हें ये बात नहीं पता है कि इस राज्य से हर वर्ष UPSC और BPSC के परचम लहराने के साथ ही यहाँ के गरीब तबके के भी लोग अमीरों से काफी ज़्यादा ज्ञान और गुण संजो कर रखते हैं। आज हम आपको एक ऐसे ही बिहारी की कहानी बताने जा रहे हैं,जो पेशे से तो एक कुली हैं। लेकिन उनके जज़्बे और फर्राटेदार इंग्लिश ने उन्हें “इंग्लिश कुली मैन (English Coolie Man)” का नाम दे दिया है। हम बात कर रहे हैं बिहार के गया जंक्शन पर एक कुली का काम करने वाले 70 साल के शिव कुमार गुप्ता की। पर आप उम्र और पेशे पर मत जाइये। शिवकुमार भले ही एक कुली का काम करते हैं, लेकिन वो अंग्रेजी बोलने में बड़े-बड़ों को मात दे देते हैं। तो चलिए जानते हैं शिव कुमार की ये दिलचस्प कहानी।

आपको पता हो कि 70 साल के शिव कुमार ये बताते हैं कि उन्होनें अपनी शिक्षा पूरी नहीं की है और ना तो उनके पास कोई डिग्री है। ना ही उन्होनें कोई क्लासेस की हैं। लेकिन उन्हें अंग्रेजी अखबार पढ़ना बेहद पसंद है। अखबार पढ़ते हुए ही उन्होनें अपनी अंग्रेजी मज़बूत कर ली। 70 सालों के शिव कुमार का कहना है कि वो काम भले ही कुली का करते हैं। लेकिन सबसे पहले वो एक अच्छे इंसान हैं। एक ऐसा इंसान जो लोगों के काम आ सकता है।


शिव कुमार गुप्ता की अच्छी और बड़ी खासियत ये भी है कि वो अपने कुली के काम के अलावा पर्यटकों को गाइड करने में भी एक संतुष्टि का अनुभव करते हैं। जब भी कोई विदेशी सैलानी उनके क्षेत्र में भ्रमण करने आते हैं, तो शिव कुमार उन्हें गाइड करते हैं। गया स्टेशन पर मौजूद 121 कुलियों की सहायता के लिए भी वो हमेशा तत्पर रहते हैं। यदि कोई कुली किसी विदेशी सैलानी की भाषा नहीं समझ पाता है। तो शिव कुमार उस कुली की सहायता करते हैं और उनके इसी व्यवहार से उनके सभी कुली साथी उनसे बेहद खुश रहते हैं।


शिव कुमार गुप्ता सदैव ही यह प्रयास करते हैं कि उनके व्यवहार से कोई भी दुखी नहीं हो। वो कभी भी किसी से मोल-जोल नहीं करते हैं। उनके इसी व्यवहार से खुश होकर सभी उनके लिए तोहफे भी लाते हैं। गया जंक्शन के ही एक कुली (सूरज देव चन्द्रवंशी) कहते हैं कि शिव कुमार गुप्ता को बाबा या “इंग्लिश कुली मैन (English Coolie Man)” के नाम से पुकारा जाता है। साथ ही सूरज देव बताते हैं कि बाबा काम करने में सबकी काफी सहयता करते हैं। यात्री की भाषा नहीं समझ आने पर सभी कुली, बाबा के पास पहुँच जाते हैं। बाबा यानी शिव कुमार गुप्ता यात्री से इंग्लिश में बात कर कुलियों को उनकी बातों को अच्छे से समझा देते हैं।

ये खबरें भी पढ़ें

  • रेलवे ने रातों रात लिया बड़ा फैसला, आज से 8 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू
  • Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

    Post a Comment

    0 Comments