मौसम विभाग ने 8 जिलों में रेड और 17 जिलों में येलो अलर्ट किया जारी; 31 अगस्त को हो सकती है बारिश

मौसम विभाग ने 8 जिलों में रेड और 17 जिलों में येलो अलर्ट किया जारी; 31 अगस्त को हो सकती है बारिश


 अगस्त का महीना खत्म होने को है. अब मानसून के मिजाज भी नरम पड़ते जा रहे हैं. उत्तर प्रदेश में शनिवार को मौसम विभाग ने औसत 6.7 मिमी बारिश होने की संभावना जताई थी, लेकिन 24 घंटे के अंदर 1.3 मिमी बारिश ही हुई है. रविवार को लखनऊ के चौक, गोमती नगर समेत कई क्षेत्रों में बारिश हुई है. जिसके बाद मौसम विभाग ने प्रदेश के 17 जिलों में यलो अलर्ट और 8 जिलों में रेड अलर्ट यानी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है.

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि बंगाल की खाड़ी पर लो प्रेशर बना हुआ है जिस कारण बारिश उड़ीसा से होते हुए राजस्थान और गुजरात तक पहुंचेगी. पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में बारिश की गतिविधियां जारी रहेंगी.

31 अगस्त को पूरे प्रदेश में हो सकती है बारिश

विभाग का कहना है कि उत्तर प्रदेश में 1 जून से शुरू हुए मानसून से अब तक 563 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है. जो औसत अनुमान 602. 9 मिमी से 39.9 मिमी कम है. निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया है कि 31 अगस्त तक पूरे प्रदेश में मामूली बरसात होने की संभावना है.

इन जिलों में घोषित किया यलो अलर्ट

मौसम विभाग के अनुसार बलरामपुर, गोंडा, श्रावस्ती, सिद्धार्थ नगर, लखीमपुर खीरी, पीलीभीत, संभल, लखनऊ, हरदोई, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, मऊ, आजमगढ़, कुशीनगर, महाराजगंज और गोरखपुर जिले में 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी और गरज-चमक के बीच बारिश होने की संभावना है.

इन जिलों में है रेड अलर्ट

मौसम विभाग ने कहा है कि बरेली, शाहजहांपुर, बदायूं, कासगंज, फर्रुखाबाद, बाराबंकी और बहराइच, सीतापुर जिले में 75 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी साथ ही गरज चमक के साथ बारिश होगी.

क्या होता है ग्रीन, रेड, यलो और ऑरेंज अलर्ट

मौसम विभाग कभी येलो तो कभी रेड अलर्ट जारी करता है आखिर क्या होता है ये अलर्ट. सबसे पहले बात करते हैं ग्रीन अलर्ट की. जब विभाग ग्रीन अलर्ट जारी करे इसका मतलब बारिश से कोई खतरा नहीं है. जब येलो अलर्ट जारी होता है तब विभाग खतरे के प्रति सचेत करता है. जब ऑरेंज अलर्ट होता है तो उसका मतलब बारिश और आंधी की पूरी संभावनाएं है. इस अलर्ट के बाद लोगों को सावधान होना चाहिए और इधर-उधर जाने पर सावधानी बरतनी चाहिए.

रेड अलर्ट का मतलब है कि स्थिति बहुत ज्यादा खतरनाक है. मौसम विभाग के अनुसार ऐसे मौसम में इधर-उधर नहीं निकलना चाहिए. इस अलर्ट का मतलब है कि मौसम खतरनाक स्तर पर पहुंच चुका है, भारी बारिश होने की अधिक संभावना है.

ये खबरें भी पढ़ें

  • रेलवे ने रातों रात लिया बड़ा फैसला, आज से 8 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू
  • Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

    Post a Comment

    0 Comments