UP में कोविड-19 लक्षणों से युक्त 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए मुफ्त दवाई-किट देगी योगी सरकार

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूपी में कोविड-19 लक्षणों से युक्त 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए दवाई-किट के वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने अपने आवास 5, कालिदास मार्ग से नि:शुल्क दवाई वितरण में लगे वाहनों को हरी झंडी दिखाई।


इन वाहनों को प्रदेश के विभिन्न जिलों के लिए रवाना किया गया। निगरानी समितियों के सदस्यों के माध्यम से दवाई-किट का वितरण गांव-गांव में घर-घर तक किया जाना है।


राज्य के लोगों को बीमारियों से बचाने के लिए मुख्यमंत्री की ओर से प्रत्येक दिन नए प्रयोग किए जा रहे हैं। इस कड़ी में मंगलवार से 18 साल से कम उम्र के उन बच्चों के लिए, जिनमें कोविड-19 के लक्षण पाए जा रहे हैं, निशुल्क दवाइयां पहुंचाने की जिम्मेदारी निगरानी समितियों को सौंपी गई है। प्रदेश में 60 हजार से अधिक निगरानी समतियों के चार लाख से अधिक सदस्यों को इन दवाइयों के गांव-गांव वितरण की जिम्मेदारी सौंपी गई है। योगी सरकार ने मानसून को देखते हुए भी मौसमी व मच्छर जनित बीमारियों से लड़ने की पुख्ता तैयारियां कर ली हैं।


प्रदेश सरकार द्वारा कोविड-19 की संभावित तृतीय लहर की पहले से ही तैयारी की जा रही है। इसी कड़ी में 18 वर्ष से कम आयु के लक्षण युक्त बच्चों के लिए निगरानी समिति के माध्यम से समस्त जनपदों में नि:शुल्क दवाई किट का वितरण करने का विशेष कार्यक्रम शुरू हो रहा है। 18 वर्ष से कम आयु के कोविड-19 के लक्षण युक्त बच्चों को चार वर्गो में (0-1 वर्ष, 1-5 वर्ष, 5-12 वर्ष तथा 12-18 वर्ष ) में विभाजित किया गया है।


प्रत्येक वर्ग के लिए अलग-अलग प्रकार की दवाई किट तैयार की गई है। इस कार्यक्रम से 50 लाख से अधिक बच्चों को नि:शुल्क दवाई किटें वितरित की जाएंगी। प्रथम चरण में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 17 लाख किटें 18 मंडलों के 75 जनपदों के लिए अपने सरकारी आवास लखनऊ से हरी झंडी दिखाकर रवाना की गई। शेष 33 लाख किटें इसी माह में समस्त जनपदों के वेयर हाउसों में आपूर्ति की जाएंगी। वेयरहाउसों से अग्रेत्तर जनपदों के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं निगरानी समिति के माध्यम से लक्षण युक्त बच्चों में वितरित की जाएगी। यही नहीं, संभावित तृतीय लहर के दृष्टिगत कोविड-19 के लक्षण युक्त वयस्कों के लिए फिर 100 किट प्रति निगरानी समिति के लिए कुल 71 लाख किटें तैयार कर जनपदों में भेजी जा रही हैं।


इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, राज्यमंत्री अतुल गर्ग समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे। 'कोरोना की जंग में हर जीवन अनमोल' अभियान के तहत मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश में इस पहल की शुरुआत की है।

Post a Comment

Previous Post Next Post