यूपी को कोरोना की तीसरी लहर से कैसे बचाएंगे CM योगी? बच्चों के अभिभावकों को कर रहे हैं वैक्सीनेट

यूपी को कोरोना की तीसरी लहर से कैसे बचाएंगे CM योगी? बच्चों के अभिभावकों को कर रहे हैं वैक्सीनेट- India TV Hindi

पूरा देश कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर का कहर झेल रहा है। विशेषज्ञों के अनुसार, इसके बाद तीसरी लहर भी आने की संभावना है। कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों को सबसे ज्यादा खतरा बताया जा रहा है। ऐसे में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इससे बचने के लिए प्लान तैयार कर लिया है। शनिवार को इटावा के दौरे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी जानकारी दी।
कोरोना की तीसरी लहर से बचने का प्लान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, "कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर आने से पहले हम व्यवस्था कर चिन्हित कर रहे हैं कि 10 साल से कम उम्र के सभी बच्चों के अभिभावकों को वैक्सीन की डोज़ देकर उन्हें सुरक्षा प्रदान कर दी जाए।" गौरतलब है कि बच्चों के लिए भारत में अभी तक कोई वैक्सीन नहीं आई है। ऐसे में योगी सरकार बच्चों के अभिभावकों वैक्सीनेट करने की ओर बढ़ रही है


सुरक्षित है उत्तर प्रदेश

उन्होंने कहा, "हमने उन सभी आंशकाओं को खत्म कर दिया है जिसमें कहा गया था कि उत्तर प्रदेश सबसे बड़ा हॉटस्पॉट (कोरोना का) होगा। उत्तर प्रदेश एकदम सुरक्षित है और हम लोग दूसरी लहर से करीब-करीब सफलता के साथ आगे बढ़ चुके हैं।"
अखिलेश यादव पर हमला

सीएम योगी ने कहा, "जो लोग वैक्सीन को BJP की बताते थे, मोदी जी की बताते थे, आज वो फ्री वैक्सीन की बात कर रहे हैं, ये उनकी दोहरी मानसिकता को दिखाता है।" बता दें यहां सीएम योगी का इशारा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर था।
कोरोना के 6046 नए केस मिले, 226 और मरीजों की मौत

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से शनिवार को 226 और मरीजों की मौत हो गई जबकि संक्रमण के 6,046 नये मामले सामने आये हैं। अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य अमित मोहन प्रसाद ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि संक्रमण के मामलों में खासी कमी आई है।
24 घंटे में 17540 मरीज हुए ठीक

उन्होंने बताया कि 24 अप्रैल को राज्‍य में सर्वाधिक 38,055 मामले आये थे और उसकी तुलना में आज सिर्फ 6,046 मामले आये जो 84.02 प्रतिशत कम हैं। प्रसाद ने बताया कि 6,046 नये संक्रमितों के सापेक्ष पिछले 24 घंटे में 17,540 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर घर गए हैं और अब तक प्रदेश में 15,51,716 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।
उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कमी आई

उन्होंने दावा किया कि कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वाले मरीजों का प्रतिशत अब 93.02 प्रतिशत हो गया है। वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले 22 दिनों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कमी आई है। इस समय प्रदेश में 94,482 मरीज उपचाराधीन हैं जो 30 अप्रैल के सक्रिय मामलों 3,10,783 की तुलना में 69.06 प्रतिशत कम हैं।
नमूनों की जांच को लेकर नया रिकॉर्ड

अपर मुख्‍य सचिव ने कहा कि राज्य ने नमूनों की जांच को लेकर नया रिकॉर्ड बनाया है और शुक्रवार को पिछले 24 घंटे में तीन लाख से अधिक जांच करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है। प्रसाद के अनुसार, अभी तक राज्य में 4.64 करोड़ से अधिक नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है।

Post a Comment

Previous Post Next Post