प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 150 से ज्यादा शतक जड़ने वाले 5 बल्लेबाज





तकरीबन सभी क्रिकेट के फैंस को ये पता है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक शतक बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज है। सचिन ने अपने करियर में टेस्ट व वनडे में सबसे अधिक रन बनाए हैं और उनके खाते में कुल 100 अंतरराष्ट्रीय शतक दर्ज हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि प्रथम श्रणी क्रिकेट में किस बल्लेबाज ने सबसे अधिक शतक बनाए हैं? जवाब होगा जैक हॉब्स जिन्होनें प्रथम श्रेणी करियर में कुल 199 शतक बनाए हैं।

एक नजर में हॉब्स का करियर

इंग्लैंड के इस पूर्व क्रिकेटर ने कुल 834 प्रथम श्रेणी मैचों में 50.70 के औसत से 61760 रन बनाए। सन् 1905 से सन् 1934 तक क्रिकेट खेलने वाले हॉब्स ने तीन टीमों का प्रतिनिधित्व किया। 199 शतकों के अलावा उन्होंने कुल 273 अर्धशतक भी अपने करियर में लगाए। जबकि प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उनका उच्च स्कोर 316 रन रहा है।

सन् 1908 में जैक हॉब्स ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न टेस्ट मैच से अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज किया। अपने पहले ही टेस्ट मैच की पहली ही पारी में हॉब्स ने 8 चौके की मदद से 83 रन की पारी खेली थी। उनकी इस पारी के बदौलत इंग्लैंड ने 382 रन बनाए थे और वहीं ऑस्ट्रेलिया की टीम 266 रन पर पहले बल्लेबाजी करते हुए सिमट गई थी। ये मुकाबला इंग्लैंड ने 282 रन का पीछा करते हुए एक विकेट से जीत लिया था।




जैक हॉब्स ने अपने प्रथम श्रेणी करियर के ज्यादातर मुकाबले काउंटी टीम सरे के लिए खेले थे। इसके अलावा उन्होंने विजियांगराम के महाराज कुमार की एकादश का भी प्रतिनिधित्व किया था। इंग्लैंड के लिए हॉब्स ने कुल 61 टेस्ट मैच खेले थे, जिसमें 56.94 के औसत से उन्होंने 5410 रन बनाए थे। इस दौरान उनके बल्ले से 15 शतक और 28 अर्धशतक निकले थे और उनका उच्च स्कोर 211 रन रहा था।



इस मामले भी नंबर 1 हैं हॉब्स

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सबसे अधिक शतक बनाने के मामले में हॉब्स बाकी बल्लेबाजों से बहुत आगे थे। इस लिस्ट में पेट्सी हेंड्रन का नाम शामिल है, जिन्होंने 833 मैचों में कुल 170 शतक बनाए थे। उनके खाते में इस दौरान 50.80 के औसत से 57611 रन दर्ज हुआ था। सबसे अधिक रनों के मामले में पेट्सी जैक हॉब्स और फ्रैंक वुली के बाद तीसरे नंबर पर विराजमान हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post