IPL फाइनल में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले टॉप 4 भारतीय बल्लेबाज..*

 


4) मनविंदर बिसला- 92 vs चेन्नई सुपर किंग्स (2012)

आईपीएल 2012 सीजन के फाइनल कोलकाता नाईट राइडर्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेल गया था. इस मैच में सीएसके ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सुरेश रैना के 73 और माइकल हसी के 54 रनों की मदद से 20 ओवरों में 190/3 का स्कोर बनाया था.

इसके जवाब में कोलकाता नाईट राइडर्स के सलामी बल्लेबाज मनविंदर बिसला ने 48 गेंदों पर 8 चौके और 5 छक्कों की मदद से 89 रनों की ऐतिहासिक पारी खेलकर अपनी टीम आईपीएल चैंपियन बनाया था.

3) मनीष पांडे- 94 रन vs किंग्स इलेवन पंजाब (2014)

आईपीएल 2014 सीजन के फाइनल में किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाईट राइडर्स के बीच एक बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला था. इस मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 199/4 का स्कोर बनाया था.

जिसके जवाब में मनीष पांडे ने सिर्फ 50 गेंदों पर 7 चौके और 6 छक्कों की मदद से 94 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी.

3) मुरली विजय- 95 रन vs रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (2011)

आईपीएल 2011 के फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम आमने-सामने थी. मैच में सीएसके ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मुरली विजय के सिर्फ 52 गेंदों पर 4 चौके और 6 छक्कों की मदद से 205/5 का स्कोर बनाया था.

जिसके जवाब में आरसीबी की टीम सौरभ तिवारी के नाबाद 42 रनों की मदद से 20 ओवरों में सिर्फ 147/8 का स्कोर बनाया था.

1) रिद्धिमान साहा- 115* vs कोलकाता नाईट राइडर्स (2014)

किंग्स इलेवन पंजाब के विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा ने आईपीएल 2014 के फाइनल में कोलकाता नाईट राइडर्स के विरुद्ध सिर्फ 55 गेंदों पर 10 चौके और 8 छक्कों की मदद से नाबाद 115 रनों की पारी खेली थी. जिसकी मदद से उनकी टीम ने 20 ओवरों में 199/4 का स्कोर बनाया था.

इसके जवाब में कोलकाता नाईट राइडर्स की ओर से मनीष पांडे ने 94 रनों की दमदार पारी खेलकर अपनी टीम को 19.3 ओवरों में 7 विकेट खोकर जीत दिलाई थी.

Post a Comment

Previous Post Next Post