IPL 2021 ‘गुरु’ धोनी, ‘चेला’ पंत, सुपरकिंग्स का जमेगा रंग या आज दिल्ली करेगी दंग? देखिए आज का मैच



IPL 2021 का गुब्बारा फट चुका है. रोमांच आसमान चढ़ चुका है. पहले मुकाबले का नशा उतरा न हो तो उतार लीजिए. क्योंकि, आज होने वाला सीजन का दूसरा मुकाबला भी कुछ कम नहीं है. आज की शाम और भी मजेदार रहने वाली है. IPL 2021 के अखाड़े में आज गुरु और चेला उतरने वाले हैं. गुरु यानी एमएस धोनी (MS Dhoni), जिनके हाथों में होगी चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) की कमान और चेला यानी ऋषभ पंत (Rishabh Pant), जो संभाले दिखेंगे दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) की बागडोर. मुकाबला दो टीमों का होगा, हार और जीत भी टीम की होगी, पर निगाह सबकी गुरु और चेले पर होगी.

अब गुरु धोनी जीतेंगे या चेला पंत, ये तो मुंबई के वानखेड़े मैदान पर होने वाले मुकाबले के बाद ही पता चलेगा. लेकिन, दोनों टीमों की ताकत को तौलने से पहले गुरु और चेले की बात कर लेना जरूरी है. धोनी और पंत दोनों एक समान काबिलियत रखते हैं. दोनों विकेटकीपर बल्लेबाज हैं. दोनों अपनी-अपनी टीमों के कप्तान हैं. दोनों मैच विनर हैं. दोनों फिनिशर हैं और विकेट के पीछे और आगे से मैच पलटने का दमखम रखते हैं. पंत ने कीपिंग के कई सारे दांव पेंच धोनी से सीखे हैं. ऐसे में आज का मुकाबला गुरु के सामने चेले के लिए किसी बड़े इम्तिहान से कम नहीं रहने वाला.
दोनों टीमों से आज नहीं खेलेंगे ये खिलाड़ी

अब बात धोनी और पंत की टीम की. कागज पर दोनों बैलेंस साइड है. धोनी की टीम में युवा जोश कम, अनुभवी सिपाहसलार ज्यादा हैं. तो दिल्ली वाले खेमें का जोश हाई है और अनुभव मिला जुला. दोनों टीमों को आज के मुकाबले अपने-अपने साउथ अफ्रीकी खिलाड़ियों की सेवाएं नहीं मिलेंगी. मतलब अगर दिल्ली के लिए नॉर्खिया और रबाडा खेलते नहीं दिखेंगे तो CSK को ऐसी कमी लुंगी नगीदी को लेकर खलेगी. दरअसल, ये सभी खिलाड़ी 6 अप्रैल को इंडिया पहुंचे हैं. और, इनका क्वारंटीन टाइम अभी खत्म हुआ नहीं है. दिल्ली की समस्या अपने अफ्रीकी साथियों के अलावा अक्षर पटेल की गैर-मौजूदगी की भी है. अक्षर कोरोना से उबर चुके हैं पर आज का मुकाबला खेलने की संभावना न के बराबर है.
CSK के मैच प्रैक्टिस नहीं होने से DC को फायदा

CSK के मुकाबले दिल्ली कैपिटल्स के खिलाड़ियों को एक बड़ा एडवांटेज मैच प्रैक्टिस का रहने वाला है. दरअसल, ऋतुराज गायकवाड, जगदीशन, शार्दुल जैसे युवा खिलाड़ियों को छोड़ दें तो धोनी समेत CSK के कई सीनियर मोस्ट सिपाहसलार लंबे वक्त से मैच से दूर हैं. धोनी IPL 2020 के बाद सीधा इस IPL में उतर रहे हैं. तो रवींद्र जडेजा भी इंजरी की वजह से लंबे वक्त से दूर हैं. फैफ डू प्लेसी ने भी PSL के बाद बल्ला नहीं उठाया है. हालांकि, सुरेश रैना और रॉबिन उथप्पा के जुड़ने से इस सीजन टीम को मजबूती मिली है. दूसरी ओर, दिल्ली का हर खिलाड़ी IPL 2021 उतरने से पहले कोई न कोई मैच खेल चुका है. पृथ्वी शॉ, शिखर धवन सभी प्रचंड फॉर्म में हैं. और, आज अपना दमखम दिखा सकते हैं.
जब हुआ आमना सामना

IPL की पिच पर अब तक दोनों टीमें कुल 23 बार टकराई हैं, जिसमें 15 बार धोनी के धुरंधर विजयी रहे हैं तो 8 मौकों पर दिल्ली के वारे-न्यारे हुए हैं. भारतीय सरजमीं पर दोनों टीमें 18 बार आमने सामने हुई हैं. इनमें 13 बार CSK विजयी रही है, जबकि सिर्फ 5 में ही दिल्ली का दम दिखा है.
अनुभव से असर दिखेगा, CSK का पलड़ा भारी

साफ हैं, आंकड़े चेन्नई सुपर किंग्स के साथ हैं. तजुर्बा भी उसके पास है. बस कुछ नहीं है तो मैच प्रैक्टिस. लेकिन इससे क्या खिलाड़ी खेल छोड़ देने पर उसे खेलना थोड़े न भूलता. अब अनुभव है तो असर तो दिखेगा ही. लिहाजा आज के मैच दिल्ली कैपिटल्स पर चेन्नई सुपर किंग्स का पलड़ा थोड़ा भारी है.

Post a Comment

Previous Post Next Post