रिषभ पंत की कप्तानी की पहली परीक्षा एम एस धौनी के सामने, दिल्ली व चेन्नई के बीच टक्कर




मुंबई, प्रेट्र। रिषभ पंत की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स और महेंद्र सिंह धौनी की अगुआई वाली चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) शनिवार को आइपीएल के मैच में जब आमने-सामने होंगी तो यह मुकाबला एक युवा शिष्य और उसके गुरु का भी होगा।

दिल्ली की टीम यूएई में खेले गए पिछले सत्र में उप विजेता रही थी। इस बार खिताब जीतने के सपने को पूरा करने के लिए उसका लक्ष्य जीत के साथ शुरुआत करने का होगा। वहीं, तीन बार की चैंपियन सीएसके पिछले साल आठ टीमों में सातवें स्थान पर रही थी। उस खराब प्रदर्शन को भुलाने के लिए आइपीएल की धुरंधर टीम जीत के साथ आगाज करना चाहेगी ।

चोटिल श्रेयस अय्यर की गैर मौजूदगी में कप्तानी कर रहे विकेटकीपर बल्लेबाज पंत ने हाल ही में कहा था कि वह पहले मैच में धौनी से अब तक मिली सारी सीख का इस्तेमाल करेंगे। उन्होंने कहा था, 'बतौर कप्तान मेरा पहला मैच माही भाई के खिलाफ है। मेरे लिए यह अच्छा अनुभव होगा, क्योंकि मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है। मैं अपने अनुभव और उनसे मिली सीख का पूरा इस्तेमाल करूंगा।'

टीम संयोजन बड़ी चुनौती : दिल्ली के पास शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, अजिंक्य रहाणे, स्टीव स्मिथ और पंत जैसे बल्लेबाज हैं। धवन (618) पिछले आइपीएल में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर थे। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में वनडे सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया। शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में 827 रन बनाए और ऐसी संभावना है कि वह धवन के साथ पारी का आगाज करेंगे। कप्तान पंत शानदार फॉर्म में हैं और ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड के खिलाफ मैच विजेता साबित हुए।

दिल्ली के पास मार्कस स्टोइनिस, शिमरोन हेटमायर और सैम बिलिंग्स जैसे ऑलराउंडर भी हैं, लेकिन टीम संयोजन बड़ी चुनौती होगा, क्योंकि अंतिम एकादश में चार विदेशी खिलाड़ी ही हो सकते हैं। गेंदबाजी में उनके पास इशांत शर्मा, कैगिसो रबादा, उमेश यादव, क्रिस वोक्स और एनरिक नोत्र्जे हैं। रबादा और नोत्र्जे क्वारंटाइन के कारण पहले मैच से बाहर भी रहते हैं तो भी दिल्ली का गेंदबाजी आक्रमण काफी मजबूत है। स्पिन का दारोमदार आर अश्विन और अमित मिश्रा पर होगा, क्योंकि अक्षर पटेल कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

रैना की वापसी : दूसरी ओर चेन्नई टीम में अनुभवी बल्लेबाज सुरेश रैना की वापसी हुई है, जो आइपीएल में 5368 रन बना चुके हैं। वह सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में दूसरे स्थान पर है। चेन्नई के शीर्षक्रम में रुतुराज गायकवाड़, फाफ डुप्लेसिस और अंबाती रायुडू भी हैं। युवा सैम कुर्रन, मोइन अली और धौनी मध्यक्रम को मजबूती देते हैं। गेंदबाजी में शार्दुल ठाकुर शानदार फॉर्म में हैं। दीपक चाहर और रवींद्र जडेजा बल्लेबाजी में भी योगदान दे सकते हैं।


टीमें :

दिल्ली कैपिटल्स : रिषभ पंत ( कप्तान ), शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, अजिंक्य रहाणे, शिमरोन हेटमायर, मार्कस स्टोइनिस, क्रिस वोक्स, आर अश्विन, अमित मिश्रा, ललित यादव, प्रवीण दुबे, कैगिसो रबादा, एनरिक नोत्र्जे, इशांत शर्मा, आवेश खान, स्टीव स्मिथ, उमेश यादव, रिपल पटेल, विष्णु विनोद, लुकमान मेरीवाला, एम सिद्धार्थ, टॉम कुर्रन, सैम बिलिंग्स।

चेन्नई सुपरकिंग्स : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, केएम आसिफ, दीपक चाहर, ड्वेन ब्रावो, फाफ डुप्लेसिस, इमरान ताहिर, एन जगदीसन, कर्ण शर्मा, लुंगी नगिदी, मिशेल सेंटनर, रवींद्र जडेजा, रुतुराज गायकवाड़, शार्दुल ठाकुर, सैम कुर्रन, आर साई किशोर, मोइन अली, के गौतम, चेतेश्वर पुजारा, हरीशंकर रेड्डी, के भगत वर्मा, सी हरी निशांत।


नंबर गेम :

--23 मैच खेले हैं सीएसके और दिल्ली कैपिटल्स ने आइपीएल में। इनमें से 15 मैच सीएसके ने जीते, जबकि आठ में दिल्ली की टीम जीती।

--150वां मैच खेलने उतरेंगे अजिंक्य रहणे। अब तक कुल 17 खिलाडि़यों ने आइपीएल में इतने मैच खेले हैं। साथ ही रहाणे 4000 रन आइपीएल में पूरे करने से 67 रन दूर हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post