धोनी के सामने होगी नए कप्तान पंत की चुनौती, चेन्नई और दिल्ली के बीच मैच कल




चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) और दिल्ली कैपिटल्स (डीसी) के बीच यहां शनिवार को होने वाले आईपीएल 14 के मुकाबले में जबरदस्त भिड़ंत होगी, हालांकि दोनों टीमें अभी कोविड-19 की समस्या से पार नहीं पा पाई हैं। सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के लिए यह टूर्नामेंट एक नई शुरुआत की तरह होगा, जबकि दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत के लिए भी यह सुनहरा मौका होगा, क्योंकि उनके आइडल उनके सामने होंगे।

दिल्ली की टीम पिछली बार आईपीएल 13 में फाइनल तक पहुंची थी, जबकि सीएसके की टीम सातवें नंबर पर रही थी। आईपीएल 13 पिछले सत्र में दुबई अबू धाबी और शारजाह में आयोजित हुआ था और टूर्नामेंट के पहले दिन कोरोना के 674 नए मामले थे और टूर्नामेंट के फाइनल के दिन 1096 नए मामले थे।


इसकी तुलना में आईपीएल के मौजूदा सत्र में छह शहरों में मुकाबले होने हैं, जिनमें मुंबई, दिल्ली, बंगलूर, चेन्नई, कोलकाता और अहमदाबाद शामिल हैं। मुंबई ने गत छह अप्रैल को 10 हजार नए मामले रिपोर्ट किए थे। दिल्ली की टीम के मूल कप्तान श्रेयस अय्यर अपने बाएं कंधे की सर्जरी करा चुके हैं, जबकि दिल्ली टीम के ऑलराउंडर अक्षर पटेल कोरोना से संक्रमित हैं।

अय्यर के चोटिल होकर टूर्नामेंट से बाहर हो जाने के बाद युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को दिल्ली टीम का नया कप्तान बनाया गया है। पंत ने अपनी टीम के लिए बेहतर प्रदर्शन का विश्वास दर्ज किया है, लेकिन वह महेंद्र सिंह धोनी के सामने कैसा प्रदर्शन कर पाते हैं यह देखना काफी दिलचस्प होगा।

सीएसके की टीम ने ऑस्ट्रेलिया के जोश हेजलवुड के निजी कारणों से टूर्नामेंट से हट जाने के बाद उनकी जगह जेसन बेहरेनडोर्फ को अनुबंधित किया है। दूसरी तरफ दिल्ली टीम के कैगिसो रबादा और एनरिच नोत्र्जे हालांकि मुंबई के दिल्ली टीम के होटल पहुंच चुके हैं, लेकिन वे कम से कम पहले मैच में नहीं खेल पाएंगे।

दक्षिण अफ्रीका के इन दोनों तेज गेंदबाजों ने दिल्ली के पिछली बार फाइनल में पहुंचने में अहम भूमिका निभाई थी। दिल्ली की टीम के लिए एक बड़ी समस्या पहले मैच में सही एकादश चुनना है, क्योंकि आईपीएल में विजयी शुरुआत करना बहुत जरूरी है। रबादा और नोत्र्जे ने आईपीएल 2020 में आपस में कुल 52 विकेट बांटे थे, इसलिए उनके पहले मैच में बाहर रहने की कमी दिल्ली कैपिटल्स को खलेगी।

चेन्नई की टीम में धोनी के अलावा मोइन अली, केएम आसिफ, ड्वेन ब्रावो, दीपक चाहर, फाफ डु प्लेसिस, कृष्णाप्पा गौतम, इमरान ताहिर, रितुराज गायकवाड, रवींद्र जडेजा, लुंगी एनगिदी, अंबाती रायडू, चेतेश्वर पुजारा, सुरेश रैना, मिशेल सैंटनर, शार्दुल ठाकुर और रॉबिन उथप्पा जैसे कई मजबूत खिलाड़ी मौजूद हैं।

दूसरी तरफ दिल्ली की टीम में पंत के अलावा रवि चंद्रन अश्विन, आवेश खान, सैम बिलिंग्स, टॉम करेन, शिखर धवन, शिमरोन हेटमायर, अमित मिश्रा, एनरिच नोत्र्जे, अक्षर पटेल, कैगिसो रबादा, आजिंक्य रहाणे, ईशांत शर्मा, पृथ्वी शॉ, स्टिवन स्मिथ, मार्कस स्टॉयनिस, क्रिस वोक्स और उमेश यादव जैसे दिग्गज खिलाड़ी मौजूद हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि इनमें से कौन से खिलाड़ी एकादश में जगह बनाते हैं। यह स्थिति दोनों टीमों के लिए है।

Post a Comment

0 Comments