टेस्ट क्रिकेट में एक कैलंडर वर्ष में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले टॉप 5 बल्लेबाज

 


टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाज के लिए बड़ी पारी खेलना सबसे अहम माना जाता हैं हालाँकि इस दौरान ये महत्व नहीं रखत है कि बल्लेबाज ने कितने गेंदे खेली हैं और कितनी बाउंड्री लगाई हैं, इसके बावजूद कुछ बल्लेबाज अपनी बड़ी पारी के दौरान ज्यादा से ज्यादा बाउंड्री लगाने पर भरोसा करते हैं.

5) सचिन तेंदुलकर- 197 चौके (2002)

भारत के पूर्व रन मशीन सचिन तेंदुलकर इस सूची में पांचवे स्थान पर हैं. सचिन ने 2002 में खेले 16 टेस्ट मैचों की 26 पारियों में 55.68 की औसत और 4 शतकों की मदद से 1392 रन बनायें थेम इस दौरान उन्होंने कुल 197 चौके और 4 छक्के भी लगाये थे.

4) वीरेंद्र सहवाग- 215 चौके (2010)

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग इस सूची में चौथे स्थान पर हैं. सहवाग ने 2010 में खेले 14 टेस्ट मैचों की 25 पारियों में 61.82 की औसत और 5 शतकों की मदद से 1422 रन बनायें हैं, इस दौरान उन्होंने 215 चौके और 10 छक्के भी लगाये थे.

3) ग्रेम स्मिथ- 215 चौके (2008)

साउथ अफ्रीका के पूर्व महान कप्तान और सलामी बल्लेबाज ग्रेम स्मिथ एक कैलंडर वर्ष में सबसे अधिक चौके लगाने वाले खिलाड़ियों की सूची में तीसरे स्थान पर हैं. स्मिथ ने 2008 में खेले 15 टेस्ट मैचो की 25 पारियों में 72 की औसत और 6 शतकों की मदद से 1656 रन बनायें थे, इस दौरान उन्होंने 215 चौके और 4 छक्के भी लगाये थे.

2) मोहमम्द यूसुफ- 222 चौके (2006)

पाकिस्तान के पूर्व महान बल्लेबाज मोहमम्द यूसुफ के लिए 2006 बेहद ही यादगार रहा था. यूसुफ ने इस वर्ष खेले 11 मैचों की सिर्फ 19 पारियों में 99.33 की अद्भुत औसत और रिकॉर्ड 9 शतकों की मदद से सबसे अधिक 1788 रन बनाये थे, इस दौरान उन्होंने 222 चौके लगाये थे.

1) विवियन रिचर्ड्स- 223 चौके (1976)

वेस्टइंडीज के पूर्व महान बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स एक कैलंडर वर्ष में सबसे अधिक टेस्ट चौके लगाने वाले बल्लेबाज हैं. रिचर्ड्स ने 1976 में खेले 11 मैचों की 19 पारियों में 90 की औसत और 7 शतकों की मदद से 1710 रन बनाये थे, इस दौरान उन्होंने 223 चौके लगाये थे.

Post a Comment

Previous Post Next Post