आईपीएल इतिहास में सबसे धीमा शतक लगाने वाले टॉप-4 बल्लेबाज




ब्रेंडन मैकलम ने आईपीएल के पहले संस्करण के उद्घाटन मैच में ही तेज शतक जड़ते हुए दर्शाया था कि इस खेल और लीग में तेज खेलने की अलग अहमियत है और टीम को फायदा भी अच्छे स्ट्राइक रेट से खेलने के कारण ही मिल सकता है। क्रिस गेल और अन्य कई बल्लेबाजों ने बाद में काफी तेजी से शतक जमाते हुए अपने नाम के अनुसार प्रदर्शन किया। गेल ने भी आईपीएल इतिहास में एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने के रिकॉर्ड भी अपने नाम किया था। इन सबके बीच कुछ बल्लेबाज ऐसे रहे हैं जिनके नाम धीमा शतक जड़ने का टैग लगा हुआ है। उनके बारे में ही यहाँ चर्चा की गई है।

केविन पीटरसन

इंग्लैंड के इस खिलाड़ी का नाम इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर आता है। केविन पीटरसन ने दिल्ली के लिए खेलते हुए डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ साल 2012 के आईपीएल में 64 गेंदों का सामना करते हुए शतकीय पारी खेली थी। केविन पीटरसन एक तरफ बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन दूसरी तरफ दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम के विकेट गिर रहे थे। पीटरसन ने 97 रन के निजी स्कोर से छक्का जड़ते हुए अपना शतक पूरा किया था। उनकी इस पारी के कारण दिल्ली की टीम ने डेक्कन चार्जर्स से मिले 157 रनों के लक्ष्य को भी हासिल कर लिया था। पीटरसन अपनी शतकीय पारी के कारण मैच में हीरो बनकर निकले थे। उन्हें खड़ा रहना था और वही करते हुए वह आगे बढ़े।

सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर ने मुंबई इंडियंस के लिए कोच्चि टस्कर्स के खिलाफ 2011 के आईपीएल में खेलते हुए 66 गेंदों का सामना किया और नाबाद 100 रन बनाए थे। सबसे धीमे आईपीएल शतकों में वॉर्नर के साथ सचिन की इस पारी का नाम भी शामिल है।



डेविड वॉर्नर

इस लिस्ट में दूसरा नम्बर डेविड वॉर्नर का भी आता है जिन्होंने केकेआर के खिलाफ दिल्ली के लिए खेलते हुए शतक जमाया था। 2010 के आईपीएल में खेलते हुए वॉर्नर ने 66 गेंदों का सामना करते हुए शतकीय पारी खेली थी।

मनीष पांडे

आईपीएल के दूसरे सीजन के 56वें मैच में मनीष पांडे ने शतक जड़ा था। यह सीजन दक्षिण अफ्रीका में खेला गया था और पांडे आईपीएल में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने। 2009 में उन्होंने आरसीबी के लिए खेलते हुए डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ 67 गेंद पर शतक पूरा किया। पांडे ने 114 रनों की नाबाद पारी खेली और कुल 73 गेंदों का सामना किया। आरसीबी की टीम को मुकाबले में जीत मिली थी। इस पारी के बाद ही मनीष पांडे चमक गए थे और बाद में कुछ अन्य टीमों से भी उन्हें खेलने का मौका मिला था। उनकी यह पारी हमेशा के लिए यादगार बन गई लेकिन आईपीएल में यह सबसे धीमा शतक है।

Post a Comment

Previous Post Next Post