विराट कोहली की ‘दूर की सोच’ है, हार्दिक पंड्या के इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में गेंदबाजी नहीं करने की वजह




वनडे सीरीज के 2 मुकाबले हो गए. पहले में टीम जीती तो बात सामने नहीं आई. पर, जब दूसरे में 336 रन का बड़ा टोटल खड़ा कर भी टीम हार गई तो भेद खुल गया. बात जो छिपी थी सामने आ ही गई कि आखिर हार्दिक पंड्या गेंदबाजी क्यों नहीं कर रहे? न तो उन्हें इंजरी है, न ही वो किसी भी प्रकार से अनफिट हैं, तो फिर क्यों ? यहां तक कि वनडे सीरीज से पहले T20 सीरीज में हार्दिक ने अच्छी गेंदबाजी भी की, फिर क्यों नहीं वो वनडे सीरीज में गेंद से कमाल करते दिखे? खास कर जब दूसरे वनडे में टीम इंडिया संकट में थी तब भी कप्तान कोहली ने अपने इस तुरूप का इक्के का इस्तेमाल क्यों नहीं किया? सवाल कई हैं और जवाब सिर्फ एक- विराट कोहली की दूर की सोच.

जी हां, ये विराट कोहली की दूर की सोच है, जिसने हार्दिक पंड्या को वनडे सीरीज में गेंदबाजी से रोके रखा है. उन्हें क्रिकेट की इस कला में अपना हर फन दिखाने से दूर रखा है. और, ऐसा हम नहीं कर रहे बल्कि ये खुद विराट कोहली ने कबूल किया है. दूसरे वनडे में बड़े स्कोर के बावजूद मिली हार के बाद भारतीय कप्तान से जब हार्दिक की गेंदबाजी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने इसके पीछे की वजह टीम इंडिया का फ्यूचर प्लान बताया.
हार्दिक के बॉलिंग नहीं करने के पीछे विराट की दूर की सोच

विराट कोहली ने कहा, ” हार्दिक हमारी टीम के महत्वपूर्ण अंग हैं. ऐसे में हमें उनके शरीर को अच्छे से मैनेज करना होगा. हमें समझना होगा कि उनकी जरूरत कहां पर है. T20 में हमने हार्दिक का इस्तेमाल किया था, लेकिन वनडे में उनके वर्कलोड को मैनेज किया जा रहा है.” उन्होंने कहा कि, “हमें भविष्य में इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट खेलना है. तो ये हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है कि वो पूरी तरह से फिट रहें.”
इंग्लैंड में WTC, हार्दिक प्ले कर सकते हैं अहम रोल

साफ है कि भारतीय कप्तान कोहली का इशारा इंग्लैंड में IPL के बाद होने वाली वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप और 5 टेस्ट की सीरीज की तरफ है. वो ये भी जानते हैं कि अभी IPL है तो वहां भी हार्दिक की गेंदबाजी का थोड़ा बहुत इस्तेमाल किया जा सकता है. यही वजह है कि भारतीय टीम मैनेजमेंट उनके वर्कलोड को देखते हुए उन्हें गेंदबाजी से दूर रखे है.

Post a Comment

Previous Post Next Post