अच्छी किस्मत का प्रतीक है कछुए की अंगूठी ,जानिए इसके बारे में



रत्नों और अलग -अलग धातुओं के छल्ले की तरह ही कछुए की अंगूठी भी दुर्भाग्य दूर करने का काम करती है वास्तु शास्त्र में कछुए को सुख -समृद्धि ,धन संपदा और गुड लक का प्रतीक माना जाता है आज हम आपको इससे जुडी कुछ खास बाटे बताएंगे

कछुए की अंगूठी कई तरह के वास्तुदोष दूर करती है इसे धारण करने से व्यक्ति के भीतर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है और उसके आत्मविश्वास में वृद्धि होती है

वास्तुशास्त्र के अनुसार कछुए की अंगूठी केवल चांदी की धातु में ही बनवाना चाहिए अन्य धातु की अंगूठी शुभ प्रभाव नहीं देती है इस अंगूठी को केवल सीधे हाथ में ही पहनना चाहिए

कछुए की अंगूठी को पहनने के लिए तर्जनी और मध्यमा अंगुली निर्धारित है इन्हीं में इसे पहनना चाहिए

इस अंगूठी को मां लक्ष्मी के दिन शुक्रवार को सुबह स्नान आदि करके गंगाजल और कच्चे दूध से धोकर धुप -दीप दिखाकर पहने

Post a Comment

Previous Post Next Post