किसी महिला को भूल से भी मत बोलें ये 2 शब्द, वरना जिंदगी में हमेशा रहेगी…



हमारे समाज में स्त्रियों का बहुत ही ऊँचा स्थान है और देवी का दर्जा दिया गया है। हमारे हिन्दू समाज में और भी इज्जत की दृष्टि से देखा जाता है। पर कई बार कुछ ऐसी बातें हो जाती है जिसका परिणाम आपको पूरी ज़िंदगी परेशान करेगा। हो सकता है आपको इसके बारे में पता नहीं चले की आपको जो दिक्कत है वो किस वजह से है। क्या दिक्कत किसी श्रापित वचनो से तो नहीं है।

बताते चले अगर लोग जो स्त्री का अपमान करते हैं उनका जीवन कभी सुखपूर्वक नहीं बीतता है। आज के लेख में हम आपको वो 2 बातें बताने जा रहे है जिनको भूलकर भी स्त्री से नही कहना चाहिए अन्यथा हो सकता है आपको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ जाए।

किसी भी स्त्री को ये 2 शब्द कभी न बोलें
-किसी स्त्री को कभी भी भूलकर भी बांझ नही कहना चाहिए। ये जरूरी नही है कि सभी स्त्रियाँ मां ही बन जाये। कुछ महिलाओ में नेचुरल कमी होती है जिससे के कारण वह माँ नहीं बन पाती, इसमें किसी भी स्त्री का कोई दोष नही है। जब किसी किसी स्त्री को बांझ कहते है तो उसको बहुत दुख होता है और हो सकता है दुख के गम में उसने यदि आपको बद्दुआ दे दिया तो सारी जिंदगी आपको भुगतना पड़ सकता है।

-कोई भी स्त्री शौक से वेस्या का काम नही करती। उसकी जरूर और कोई मजबूरी होती है तभी वो ऐसे गलत रास्ते पर निकल पड़ती है। इसलिए किसी भी स्त्री को वेस्या ना कहे ले ही वो वेस्या क्यों न हो। कोई भी स्त्री ये सुनना बिल्कुल पसंद नही करेगी कि आप उसे ऐसा शब्द कहें। ये उनकी मर्जी है उन्हें उनके हाल पर छोड़ दें अन्यथा हो सकता है उसके जुबान से आपके लिए कोई बद्दुआ निकल जाए और सारी जिंदगी आपको भुगतना पड़ सकता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post