कमरे में मिली देवर-भाभी की लाश, सुसाइड नोट में लिखी थी ऐसी बात, जानकर रह गया हर कोई हैरान



घर से लापता महिला और एक युवक का शव गुरुवार को सांगानेर इलाके में एक किराए के कमरे में मिला। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार दोनों मृतक रिश्ते में देवर-भाभी लगते थे। कमरे में महिला का शव फर्श पर पड़ा था, जबकि वहीं युवक पंखे के कड़े से फंदा बनाकर लटकता हुआ नजर आया। इससे पुलिस ने अंदेशा जताया कि महिला को गला घोंटकर मारने के बाद युवक ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। दोनों शवों को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

सांगानेर थाना पुलिस के मुताबिक घटनास्थल पर कमरे में शवों के पास पड़ा एक सुसाइड नोट मिला है। इसमें लिखा है कि कि हम दोनों साथ में रहना चाहते हैं और साथ में जीना मरना चाहते हैं। हमारी लाश को एक साथ दफनाया जाए। ये दोनों आपस में चाचा-ताऊ के रिश्ते में देवर भाभी थे। घटना का पता चलने पर पुलिस ने परिजन को सूचना दी। तब वे भी रोते बिलखते हुए मौके पर पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद शव उन्हें सौंप दिया गया।

सांगानेर थानाप्रभारी शिवदयाल गोयर ने बताया कि सांगानेर में गोविंद नगर कॉलोनी में स्थित एक मकान में किराए के कमरे में मंगलवार देर शाम को एक महिला व युवक का शव होने की सूचना मिली थी। वहां पहुंचने पर पुलिस ने शवों की शिनाख्त योगेश धाकड़ (27) और उसकी भाभी चंचल धाकड़ (25) के रूप में की। पुलिस को अंदर से बंद कमरे के गेट को धक्का देकर खोलना पड़ा। वहां फर्श पर चंचल और फंदे पर योगेश लटका हुआ था। दो शव मिलने की सूचना पर आसपास के लोगों में सनसनी मच गई।

पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया है कि चंचल की हत्या गला दबाकर देवर योगेश ने की, जिसके बाद फंदा लगाकर योगेश ने आत्महत्या की है। पुलिस को मृतक के पास एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उन्होंने साथ जीने मरने की बात कही हैं। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि मरने के बाद उन्हें एक साथ दफनाया जाए। कारण का पुलिस पता लगाने के प्रयास कर रही है। साथ ही, सुसाइड नोट की राइटिंग के आधार पर जांच की जाएगी। परिजन से बातचीत के बाद ही मामले की सच्चाई सामने आएगी।

थाना प्रभारी के मुताबिक योगेश धाकड़ गोविन्द नगर सांगानेर में किराए का कमरा लेकर रहता था। वह प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहा था। चंचल धाकड़ की करीब 6 साल पहले बयाना भरतपुर निवासी शिव सिंह से शादी हुई थी। 30 अगस्त को चंचल भरतपुर स्थित ससुराल से रहस्यमयी तरीके से गायब हो गई। परिजन के काफी तलाश के बाद भी चंचल का पता नहीं लगा। 31 अगस्त को परिजनों ने भरतपुर बयाना के रूदावल थाने में चंचल की गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

Post a Comment

0 Comments