नहर में गिरी नर्सिंग छात्रों से भरी बस, अब तक 38 शव निकाले गए

मध्य प्रदेश के सीधी में मंगलवार को भयंकर सड़क हादसा हुआ है. यहां नर्सिंग छात्र-छात्रों से भरी हुई एक बस नहर में जा गिरी, बस में करीब 50 लोग सवार थे. इस हादसे में अबतक नहर से 38 शवों को निकाला जा चुका है. NDRF-SDRF, स्थानीय प्रशासन द्वार अभी भी नहर में से लोगों को निकाला जा रहा है. छात्रों से भरी हुई बस सीधी से सतना की ओर जा रही थी.


मरने वालों में छात्र-छात्रों की संख्या अधिक
जानकारी के मुताबिक, करीब 50 यात्रियों से भरी हुई बस सीधी से सतना जा रही थी, जिस दौरान ये भयावह हादसा हुआ. रास्ते पर जब सामने से बोलेरो गाड़ी आ रही थी तब ड्राइवर उसे साइड देने लगा और उसी दौरान ये भयावह हादसा हुआ.

बस में बैठे लोगों में सबसे अधिक संख्या छात्र-छात्राओं की थी. नर्सिंग का एग्जाम देने बस में सवार होकर स्टूडेंट सीधी से सतना जा रहे थे जिस वक्त ये हादसा हुआ है. हादसे में मरने वाले भी अधिकतर नर्सिंग के छात्र-छात्राएं ही हैं.

ये घटना मंगलवार सुबह करीब 7.30 बजे की है, जब बेकाबू बस नहर में गिर पड़ी. हादसे के तुरंत बाद 7 लोग तो तैरकर बाहर आ गए, लेकिन बाकी फंसे रह गए. हादसे के बाद ही बाणसागर डैम से निकलने वाली पानी को बंद कराया गया, नहर में पानी का लेवल कम कर दिया गया ताकि लोगों को खोजने में आसानी हो.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भी इस हादसे पर दुख जताया गया है. प्रधानमंत्री नेशनल रिलीफ फंड की तरफ से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा, साथ ही घायलों को 50 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी.

PM @narendramodi has approved an ex-gratia of Rs. 2 lakh each from Prime Minister’s National Relief Fund for the next of kin of those who have lost their lives due to the bus accident in Sidhi, Madhya Pradesh. Rs. 50,000 would be given to those seriously injured.— PMO India (@PMOIndia) 




मुआवजे का किया गया ऐलान, अमित शाह भी एक्टिव
इस मामले में राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों के लिए पांच लाख रुपये की सहायता राशि देने की बात कही है. साथ ही दो मंत्रियों को घटना स्थल पर भेजा गया है, ताकि जल्द से जल्द बचाव कार्य किया जा सके.

मंत्री श्री @tulsi_silawat और श्री रामखेलावन पटेल तुरंत घटनास्थल के लिए रवाना हो रहे हैं।

इस दुर्घटना में हमारे जो भाई-बहन नहीं रहे, उनके परिजनों को रु. पाँच लाख की सहायता राशि तत्काल दी जाएगी।मेरी अपील है कि सभी धैर्य रखें। दुःख की इस घड़ी में मैं और प्रदेश की जनता आपके साथ है।— Shivraj Singh Chouhan (@ChouhanShivraj)

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस मामले में शिवराज सिंह चौहान से बात की है और जल्द से जल्द बचाव कार्य कराने को लेकर चर्चा की है. अमित शाह ने कहा कि स्थानीय प्रशासन राहत व बचाव के लिए हर संभव मदद पहुंचा रहा है. मैं मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं व घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.


मध्य प्रदेश के सीधी जिले में हुआ बस हादसा बहुत दुःखद है, मैंने मुख्यमंत्री @ChouhanShivraj जी से बात की है। स्थानीय प्रशासन राहत व बचाव के लिए हर संभव मदद पहुंचा रहा है। मैं मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूँ व घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।

Post a Comment

Previous Post Next Post