हरियाणा के तीन जिलों में इंटरनेट सेवाएं बहाल, 14 जिलों में अब भी पाबंदी..|




हरियाणा सरकार ने यमुनानगर, रेवाड़ी और पलवल में इंटरनेट सेवाएं रविवार को बहाल कर दीं। अभी प्रदेश के 14 जिलों अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, सिरसा, सोनीपत और झज्जर में सिर्फ वॉयस कॉल ही कर सकेंगे, अन्य इंटरनेट सेवाएं बंद रहेंगी।

सरकार ने किसान आंदोलन के मद्देनजर स्थिति शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए यह निर्णय लिया है। गृह विभाग ने 14 जिलों में मोबाइल इंटरनेट की 2जी, 3जी, 4जी, सीडीएमए, जीपीआरएस, एसएमएस सेवाओं (केवल अधिसंख्य एसएमएस) और सभी डोंगल सेवाओं को निलंबित करने की अवधि 1 फरवरी 2021 शाम 5 बजे तक के लिए बढ़ा दी है।


राज्य सरकार ने एसएमएस, व्हाट्सएप, फेसबुक ट्विटर आदि विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से दुष्प्रचार और अफवाहों के प्रसार को रोकने के लिए इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का निर्णय लिया है। हरियाणा के गृह सचिव राजीव अरोड़ा ने लोक सुरक्षा का ध्यान रखते हुए ‘टेंपरेरी सस्पेंशन ऑफ टेलीकॉम सर्विसेज (पब्लिक इमरजेंसी और पब्लिक सेफ्टी) रूल्स, 2017 के रूल 2’ के तहत इंटरनेट सेवाएं बंद करने के आदेश दिए हैं।

बीएसएनएल (हरियाणा के अधीन आने वाले क्षेत्र) सहित हरियाणा में टेलिकॉम सेवाएं देने वाली सभी कंपनियों को इस आदेश का पालन सुनिश्चित करना होगा। 14 जिलों में शांति बनाए रखने व लोक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार ने ये आदेश जारी किए हैं। कोई भी व्यक्ति इन आदेशों के उल्लंघन का दोषी पाया गया तो वह संबंधित प्रावधानों के तहत कानूनी कार्रवाई के लिए उत्तरदायी होगा।

स्थिति नियंत्रित करने के लिए लगाई रोक :

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने कहा कि सरकार ने 26 जनवरी के बाद की स्थिति को देखते हुए इंटरनेट पर रोक लगाने के लिए कदम उठाए, अब सेवाएं बहाल की जा रही हैं। स्थिति नियंत्रण में रखने के लिए यह कदम उठाया गया।

Post a Comment

Previous Post Next Post