Trending: जानिए किस परेशानी को दूर करने के लिए इस गांव के लोगों को करवानी पड़ी कुत्ते और कुतिया की शादी#.



हमारे देश में शादी को बहुत महत्व दिया जाता है. और शादी का नाम सुनते ही सभी के मन में मिठाइयों और नए नए कपड़ों का ख्याल आने लगता है. लेकिन आज हम आपको एक ऐसी अनोखी शादी के बारें बताने जा रहे हैं.जिसके बारें में आपने पहले ना तो कभी सुना होगा और ना ही देखा होगा...

कहा जाता है कि शादी दो आत्माओं के साथ दो परिवारों का भी मिलन है. लेकिन आज हम जिस शादी की बात कर रहे हैं. उसे सुनकर आप भी अपनी हंसी रोक नहीं पाएंगे. मामला मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले के पुछीकरगुवा गांव का है.जहां एक ऐसा शादी हुई है जिसने सभी को हैरान-परेशान कर दिया है. दरअसल गांव के लोगों ने दो मूक जानवरों की शादी करवाई है.

ये शादी सभी हिन्दू रीतिरिवाज के तहत की गई है. इस शादी में दूल्हा एक कुत्ता है जिसका नाम गोलू है और दुल्हन एक कुतिया है जिसका नाम रश्मि है. इतना ही नहीं शादी की खास बात ये भी है कि इसमें 800 लोगों को भोज भी कराया गया था.


कुत्ते और कुतिया की शादी


दरअसल पुछीकरगुवा गांव के लोग कई दिनों से पानी की किल्लत से जूझ रहे थे. और अपनी परेशानी को दूर करने के लिए उन्होंने एक उपाय के तहत कुत्ते और कुतिया की शादी करवाई है. गांव के लोगों का मानना है कि अगर दो मूक जानवरों की शादी करवा दी जाए तो इंद्रदेव खुश हो जाते हैं. जिसके बाद गांव के ही एक शख्स ने मूलचंद नायक ने अपनी कुतिया रश्मि की शादी यूपी के रहने वाले अशोक यादव के गोलू नाम के कुत्ते के साथ करवाई है. शादी के बाद सभी ने पूरे रीति रिवाजों से रश्मि की विदाई भी की.


पानी की परेशानी को खत्म करने के लिए करवाई शादी


वहीं कुत्ते के मालिक अशोक यादव का भी मानना है कि इस शादी से गांव के लोगों की पानी की समस्या खत्म हो जाएगी. उन्होंने बताया कि गांव में पीने के लिए भी पानी है.ऐसे में यहां कि महिलाओं बहुत दूर जाकर घंटो लाइन में लगकर पानी लाना पड़ता है. उनकी इसी परेशानी को देखते हुए सभी गांव वालों ने मिलकर ये शादी करवाई और भगवान से प्रार्थना की है कि गांव से पेयजल संकट खत्म हो जाए.


Post a Comment

Previous Post Next Post