Bulandshahr News: जूते पर लिखा बिक रहा 'ठाकुर 6 नंबर', दुकानदार समेत कंपनी पर केस

Bulandshahr News: Shopkeeper Selling Shoes Written By Caste, Case  Registered - जूते पर लिखा बिक रहा 'ठाकुर 6 नंबर', दुकानदार समेत कंपनी पर केस  - Navbharat Times

यूपी पुलिस वाहनों पर जाति लिखकर चलने वालों पर सख्त कार्रवाई कर रही है। उधर बुलंदशहर में एक अनोखा मामला देखने को मिला है। यहां जूतों पर जातिसूचक शब्द लिखकर बेचा जा रहा है। एक युवक दुकान पर जूता खरीदने पहुंचा तो उसका माथा ठनक गया। जूते के सोल पर नीचे 'ठाकुर' लिखा हुआ था। युवक की तहरीर पर पुलिस ने जूते बेचने और बनाने वाली कंपनी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

बजरंग दल के एक कार्यकर्ता विशाल चौहान ने जूते पर नाम देखकर आपत्ति जताई। जानकारी के अनुसार, बुलंदशहर के गुलावठी कस्बे में विशाल चौहान जूता खरीदने के लिए पहुंचा था। वहां एक दुकानदार नासिर जूता बेच रहा था। जब जूता देखने लगा तो देखा उनपर जाति लिखी हुई थी। इसे देखकर वह हैरान रह गया। उसने इस संबंध में जूता बेचने वाले से बातचीत की।

बजरंग दल कार्यकर्ता ने की पुलिस से शिकायत
सोमवार की शाम को बूजरंग दल का एक कार्यकर्ता विशाल चौहान नासिर की दुकान पर पहुंचा था। पुलिस को दी गई शिकायत में विशाल ने कहा है, 'मैंने देखा कि ज्यादातर जूतों की सोल पर ठाकुर लिखा हुआ है। जो लोग भी ऐसे जूते बनाते हैं और बेच रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।'

'क्या तुम मेरी दुकान बंद कराओगे?'
दुकानदार और विशाल के बीच कहासुनी का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें दुकानदार नासिर कह रहा है कि क्या तुम मेरी दुकान बंद कराओगे? इस पर एक शख्स कहता है, 'तुम्हें यहां से जूते हटा देने चाहिए।' इस पर नासिर विरोध करते हुए कहता है, 'क्या मैंने इन्हें बनाया है? क्या इन जूतों पर ठाकुर लिखा देखकर मैं बेचने के लिए लाया था?' इस पर एक और शख्स कहता है, 'तुम इन जूतों को क्यों लेकर आए?'


पुलिस ने दर्ज किया केस
आरोप है कि नासिर इस दौरान विशाल से बदतमीजी से पेश आया। विरोध करने पर उसने विशाल के साथ मारपीट कर दी। पीड़ित की तहरीर पर गुलावठी थाना पुलिस ने जूता बेचने वाले और बनाने वाली कंपनी के खिलाफ जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल करने समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

गाड़ियों पर जाति लिखने वालों पर सख्त है पुलिस
बता दें कि गाड़ियों पर जाति लिखने वालों पर यूपी की योगी सरकार सख्त है। आए दिन यूपी पुलिस चेकिंग कर ऐसे वाहनों के चालान कर रही है। इसी बीच गुलावठी कस्बे में जूतों पर जाति लिखने का मामला सामने आया है।

Post a Comment

Previous Post Next Post