अंडा वेज है`? या नॉन वेज, वैज्ञानिकों का जवाब सुनकर हमेशा `के लिए खत्म हो जाएगा आपका डाउट..#..



अंडा वेज है या नॉनवेज इस पर हमेशा से लोग बहस करते आ रहे हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि वैज्ञानिकों के अनुसार अंडा शाकाहार है या मांसाहारी? इस जवाब से आपका भी डाउट हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा।


आपको बता दें कि बाजार में जो अंडे मिलते हैं वह सारे ही अनफर्टिलाइज्ड होते हैं। यानि कि इनमें से कभी भी चूजे बाहर नहीं आते हैं। इसका मतलब यह है कि विज्ञान की नजरों में अंडा वेज है।

जैसा कि आप जानते हैं कि अंडे में तीन लेयर यानि कि हिस्से होते हैं- पहला छिल्का, दूसरा सफेदी और तीसरा हिस्से को अंडे की जर्दी कहा जाता है।

सफेद वाला हिस्सा प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत होता है। इसमें जानवर का कोई भी हिस्सा मौजूद न होने के कारण एग वाइट शाकाहारी होता है।

अब बात करते हैं योक यानि कि जर्दी की। इसमें प्रोटीन के साथ-साथ कोलेस्ट्रोल और फैट भी मौजूद होता है। अंडा मांसाहार तब बनता है जब उनमें गैमीट सेल्स होता है और यह तब होता है जब मुर्गी और मुर्गा दोनों एक-दूसरे के संपर्क में आते हैं।

आमतौर पर मुर्गी जब 6 महीने की हो जाती है तो वह हर 1 या डेढ़ दिन में अंडे देती है। इन अंडों को ही अनफर्टिलाइज्ड एग कहा जाता है। इनमें से चूजे कभी भी नहीं निकल सकते हैं। यानि कि एक तरह से अंडा शाकाहारी है और इसे वेजीटेरियन भी खा सकते हैं।


Post a Comment

Previous Post Next Post