चालान काट रही थी पुलिस, लड़के ने फोन में दिखाई एक फोटो, दरोगा बोली- “अच्छा जाओ”



अपनी गाड़ी में सड़क पर चलते हुए जो सबसे बड़ा डर लगता है वो यही कि गलती से भी हमसे कोई गलती न हो जाये जिससे पुलिस पकड़ कर हमारा चालान काट दे लेकिन कई बार हम ना चाहते हुए भी पुलिस के चंगुल में फंस ही जाते हैं. ऐसा ही एक वाकया हाल ही में हुआ जहाँ पुलिस ने आधी रात में एक युवक को पकड़ा और उसका चालान काटने लगी लेकिन तभी लड़के ने अपना फोन खोला और उसमें से एक ऐसी तस्वीर दिखाई जिसे देखने के बाद पुलिस ने कहा, “अच्छा जाओ.



जानिए क्या है पूरा मामला?

दरअसल एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा उस एकेडमी में थे, जहां से उन्होंने प्रैक्टिस की थी. नीरज के बारे में बताया जाता है कि वो 2011 से लेकर 2015 तक पंचकूला में ही रहे हैं. ऐसे में हाल ही में नीरज ने यहां से जुड़े कुछ मजेदार किस्से भी लोगों से साझा किये.

नीरज ने बताया कि, “मैं अपने दोस्तों के साथ काफी टाइम स्पेंड करता था. लगभग डेढ़ साल पहले की बात है कि जब मैं पंचकूला में अपने दोस्त के साथ बाइक पर विदाउट हेलमेट जा रहा था.”



“हमें उस हालत में देखकर ट्रैफिक पुलिस ने हमे रोक लिया. पुलिस द्वारा पकड़े जाने के बाद हम घबरा गए थे और हमने उनसे चालान न काटने की रिक्वेस्ट की और आगे से हेलमेट पहनने की बात कही, लेकिन पुलिसवालों ने हमारी एक नहीं सुनी. तब मैंने आगे बढ़कर मोर्चा संभाला और कहा कि, ‘ सर! मैं एक नेशनल प्लेयर हूं’ , लेकिन पुलिसवाले ने हमारी हर बात की ही तरह इसको भी रिजेक्ट कर दिया.



मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि अब क्या किया जाये. इसके बाद मैंने अपना मोबाइल पुलिसवाले को दिखाया, जिसके वॉलपेपर पर पीएम मोदी के साथ मेरी फोटो लगी थी. वो फोटो देखते ही पुलिसकर्मी हंसने लगा और हमसे कहा, “चलो इस बार छोड़ देता हूं, लेकिन आगे से हेलमेट जरूर लगाना है.” इसके बाद मैं और मेरे दोस्त कैसे भी करके वहां से निकल गए

Post a Comment

Previous Post Next Post