लड़की ने लड़का बनकर रचाई शादी, विदाई को दौरान कुछ इस तरह हुआ खुलासा




खबरों के मुताबिक मामला एत्माउद्दौला इलाके की टेडी बगिया का है, यंहा इसी साल अप्रैल महीने में शहर के भीम नगरी में एक सामूहिक विवाह सम्मेलन में दो समलैंगिक लड़कियों ने शादी कर ली थी। उनमें से एक ने खुद को लड़के की तरह प्रजेंट किया था। उन दोनों लड़कियों ने घरवालों से सच्चाई छुपाकर पहले तो सगाई की, फिर उसके बाद भीमनगरी में हुए सामूहिक विवाह समारोह में शादी कर ली।

कार्तिक बनी सोनी का भेद तब खुला जब शादी के बाद वो उसे विदा कराने आई। प्रीति के परिजनों ने कथित लड़के की पिटाई कर दी। थाना एत्माउद्दौला के बुद्ध विहार की रहने वाली BSc की छात्रा कार्तिक उर्फ सोनिया और BA की छात्रा प्रीति की एक साल पहले कम्प्यूटर क्लास के दौरान दोस्ती हुई थी। दोस्ती कब प्यार में बदल गयी पता ही नहीं चला। और दोनों ने अपने रिश्ते को घरबालो से छुपा कर इस तरह शादी को प्लान कर लिया।
ऐसे बनाया प्लान

दोनों की दोस्ती जब प्यार में परवान चढ़ने लगी तब दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया। इसके लिए सोनिया ने खुद को लड़के की तरह प्रजेंट किया ,और इसके बाद उसने बतौर लड़का अपना रजिस्ट्रेशन भीम नगरी में आयोजित परिचय सम्मेलन में करा लिया।

रजिस्ट्रेशन के बाद सबसे जरूरी था। दोनों के परिवारों का आपस में मिलना। इसके लिए भी दोनों ने पूरी फ़िल्मी स्टोरी की तरह पहले से ही प्लानिंग करके रखी थी। और इसके लिए एक नकली परिवार का जुगाड़ किया गया। इसके बाद सोनिया ने बतौर लड़का अपने नकली परिवार को प्रीती के परिजनों से मिलवाया। प्लानिंग इतनी सॉलिड थी , कि प्रीती के परिजनों को इस बात की भनक तक नहीं लगने दी गयी। कि जिसे बह लड़का समझ कर अपनी लड़की के लिए रिस्ता देख रहे है ,असल में बह खुद एक लड़की है।

प्लानिंग के अनुसार सोनिया ने अपने नकली परिवार को प्रीति के परिजनों से मिलवा दिया। इसके बाद प्रीति के परिवार ने दोनों की शादी के लिए मंजूरी दे दी। शादी से पहले होने बाली सभी तरह की रश्मो को निभाना सुरु कर दिया गया। पहले दोनों की सगाई हुई , उसके बाद प्रीती के परिजनों ने सामूहिक सम्मेलन में बेटी का पूरे रीति-रिवाजों के साथ विवाह कर उसे विदा किया।

जब सच्चाई आई सामने

दोनों ही लड़कियों ने अपनी शादी की प्लानिंग को पूरी सिद्दत के साथ निभाया। और उसमे कामयाब भी हो गयी। लेकिन बह यह भूल गयी की यह रील लाइफ नहीं बल्कि रियल लाइफ है। और सोशल मीडिया का युग। शादी के बाद कुछ दिनों तक को सब कुछ ठीक ठाक रहा। लेकिन उसके बाद सोशल मीडिया पर सामूहिक शादी की कुछ तस्वीरें शेयर हो गयी। जिसके बाद धीरे धीरे प्रति के परिजनों को इस बात का पता चला की जिस लड़के को बह अपना दामाद समझ रहे थे। असल में बह खुद एक लड़की है।

पता चलते ही मानो घरवालों के पैरों तले जमीन खिसक गई। शादी के कुछ दिनों बाद प्रीती अपने घर बापिस आ गयी। और शादी के बाद की रश्मो की तरह सोनिया उसे बिदा कराने प्रीती के घर आया। तब प्रीती के परिजनों ने प्रीती के पति सोनिया की पिटाई लगा दी। इसके बाद प्रीती ने सोनिया के बचाव में छत से छलांग लगा दी। परिजनों के लाख समझाने पर भी जब दोनों अलग होने को तैयार नहीं हुईं, तब मामला पुलिस तक पहुंचा। जंहा दोनों ने एक दूसरे के साथ रहने का कबूलनामा पुलिस को दिया है।

Post a Comment

Previous Post Next Post