जानिए किसी अंग का फड़कना कैसे चमकाता है आपकी जिंदगी--



हमारे भारत देश और खासकर हिंन्दु धर्म में कई कहावत और कई सच्चाई है। हमारी मान्यताओं के अनुसार अगर मर्द की दायीं आंख फड़के तो कुछ अच्छा होने वाला होता है ऐसी कहावत है और ऐसा ही महिलाओं की बायीं आंख पर भी लागू होता है। आज हम जानते है कुछ ऐसे ही शुभ अशुभ संकेतों के बारे में जो किसी अंग के फड़कने से होते है।


समुद्र शास्त्र के द्वारा इंसान के चेहरे-मोहरे को देखकर उसके व्यक्तित्व और मानसिकता की जड़ तक पहुंचा जा सकता है। समुद्र शास्त्र की सहायता से इंसान के फड़कते हुए अंगों को जानकर उसके साथ भविष्य में होने वाली घटना को पहचाना जा सकता हैं।

# शरीर के बाएं हिस्से का फड़कना: समुद्र शास्त्र के अनुसार पुरुष के शरीर का बायां अंग फड़कता है तो भविष्य में कोई दुख घटना हो सकती है और शरीर के दाएं भाग का फड़कना शुभ संकेत होता है। महिलाओं के मामले में यह उलटा है, उनके बाएं हिस्से के फड़कने में खुशखबरी और दाएं हिस्से के फड़कने पर बुरी खबर सुनाई दे सकती है।


# कंधों का फड़कना: दायां कंधा फड़कता है तो यह धन लाभ का संकेत है और बाएं कंधे के फड़कने का संबंध जल्द ही मिलने वाली सफलता से है। परंतु अगर आपके दोनों कंधे एक साथ फड़कते हैं तो यह किसी के साथ आपकी बड़ी लड़ाई को दर्शाता है।


# होठों का फड़कना: होठों का फड़कना किसी नई दोस्ती का संकेत होता है।

# हथेली में हलचल: आपकी हथेली में हलचल जल्द ही किसी बड़ी समस्या में घिरने की ओर संकेत करती है और अगर अंगुलियां फड़कती है तो यह इशारा करता है कि किसी पुराने दोस्त से आपकी मुलाकात होने वाली है।

Post a Comment

Previous Post Next Post