यूपी में हुई ऐसी भयंकर घटना, जानकर हर कोई रह गया हैरान



उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में भदखोर थाना क्षेत्र के भैदपुर गांव में एक युवती की जलाकर हत्या कर दी गई। मृतका दस-बारह दिन पूर्व यहां अपने मामा के घर आई हुई थी, जहां वो वारदात का शिकार हुई। युवती ने जब दम तोड़ दिया तो मामा के परिवार वालों ने पुलिस को सूचना दिए बगैर शव का अंतिम संस्कार करने की तैयारी कर ली थी। लेकिन जैसे ही ग्रामीणों से पुलिस को सूचना मिली, पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया फिर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अब पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है।


शालू की बड़ी बहन भी करीब छः महीने से यही रह रही थी

मिली जानकारी के अनुसार, जिले के जगतपुर थाना क्षेत्र के झारा गांव निवासी धनंजय सिंह की पुत्री शालू (22) भदखोर थाना क्षेत्र के भैदपुर गांव में पिछले दस-बारह दिन पहले आई थी। शालू की बड़ी बहन भी करीब छः महीने से यही रह रही थी। बीती रात संदिग्ध अवस्था में शालू की जलकर मौत हो गई। मामा के घर वालों ने सुबह आनन-फानन में शव के अंतिम संस्कार की तैयारी कर लिया।


सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी के साथ थाने की पुलिस मौके पर पहुंची

उधर ग्रामीणों में से किसी ने पुलिस को घटना की खबर कर दिया। सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी के साथ थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस की जांच में ये तथ्य सामनें आया कि मृतका का बाल छोड़ शरीर का कई अंग जल चुका था। उसकी स्वेटर एक मुंडेर पर रखी थी। घटना स्थल पर माचिस और केरोसीन का डब्बा भी मिला है। केरोसीन का डिब्बा शव से करीब डेढ़ मीटर की दूरी पर पाया गया।

इस पूरी घटना पर एडिशनल एसपी ने मीडिया से बताया कि मामला संदिग्ध है। युवती ने आत्महत्या किया या फिर उसे जलाकर मारा गया ये जांच का विषय है। उन्होंने ये भी कहा की मृतका के मामा के घर वाले बगैर किसी सूचना के शव के अंतिम संस्कार में जुटे थे इस कारण वो भी संदिग्ध हैं। उन लोगों से पूछताछ की जा रही है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट और जांच में जो तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर विधिक कार्यवाही की जाएगी।


Post a Comment

Previous Post Next Post