माता लक्ष्मी के इस मंदिर में प्रसाद के रूप में मिलते हैं सोने-चांदी के सिक्के

माता लक्ष्मी के इस मंदिर में प्रसाद के रूप में मिलते हैं सोने-चांदी के  सिक्के - Latest Trending News From Politics, Entertainment, Sports And Crime


क्या आप जानते हैं कि मा लक्ष्मी का एक ऐसा मंदिर भी है जहां प्रसाद के रूप में सोने और चांदी के सिक्के दिए जाते हैं। तो आइए जानते हैं माता लक्ष्मी के उस मंदिर में बारे में….

आज हम आपको माता लक्ष्मी के एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जो बेहद ही खास है। हमारे देश में हर मंदिर की एक विशेषता और एक अलग ही कहानी है। मंदिरों में भक्त लोग भगवान को भोग लगाते हैं। उसी भोग को प्रसाद के रूप में भक्त लोग को वितरित किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मा लक्ष्मी का एक ऐसा मंदिर भी है जहां प्रसाद के रूप में सोने और चांदी के सिक्के दिए जाते हैं।

मध्यप्रदेश के रतलाम के माणक में मां महालक्ष्मी का मंदिर स्तिथ है। इस मंदिर में लक्ष्मी जी के साथ धन कोषाध्यक्ष कुबेर की भी पूजन की जाती है। मंदिर के कपाट धनतेरस के दिन ही खुलते हैं। धनतेरस के दिन ब्रह्ममुहूर्त के दिन यह मंदिर खुलता है और भाईदूज के दिन तक खुला रहता है। धनतेरस के दिन यह मंदिर पूरी तरह से सोने व चांदी के गहनों और नोट से सजा होता है।

क्या आप जानते हैं कि मा लक्ष्मी का एक ऐसा मंदिर भी है जहां प्रसाद के रूप में सोने और चांदी के सिक्के दिए जाते हैं। तो आइए जानते हैं माता लक्ष्मी के उस मंदिर में बारे में….

आज हम आपको माता लक्ष्मी के एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जो बेहद ही खास है। हमारे देश में हर मंदिर की एक विशेषता और एक अलग ही कहानी है। मंदिरों में भक्त लोग भगवान को भोग लगाते हैं। उसी भोग को प्रसाद के रूप में भक्त लोग को वितरित किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मा लक्ष्मी का एक ऐसा मंदिर भी है जहां प्रसाद के रूप में सोने और चांदी के सिक्के दिए जाते हैं।

मध्यप्रदेश के रतलाम के माणक में मां महालक्ष्मी का मंदिर स्तिथ है। इस मंदिर में लक्ष्मी जी के साथ धन कोषाध्यक्ष कुबेर की भी पूजन की जाती है। मंदिर के कपाट धनतेरस के दिन ही खुलते हैं। धनतेरस के दिन ब्रह्ममुहूर्त के दिन यह मंदिर खुलता है और भाईदूज के दिन तक खुला रहता है। धनतेरस के दिन यह मंदिर पूरी तरह से सोने व चांदी के गहनों और नोट से सजा होता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post