जाने...हनुमान जी को क्यों चढ़ाया जाता है मीठा पान..

जाने...हनुमान जी को क्यों चढ़ाया जाता है मीठा पान? - Rochak Post

जीवन की किसी भी कठिन लड़ाई में जीत का वरदान चाहते हो, परीक्षा में पास होना हो या मुकदमों में जीत हासिल करना हो, रुके काम पूरे करने हो या दुश्मनों से पार पाना हो, हनुमान जी हर मुराद पूरी करते हैं। पवनपुत्र हनुमान जी को चमत्कारिक सफलता देने वाला देवता माना जाता है। श्री हनुमान जी की भक्ति करने वाले को बल, बुद्धि और विद्या सहज में ही प्राप्त हो जाती है। भूत-पिशाचादि भक्त के समीप नहीं आते। हनुमान जी जीवन के सभी क्लेश को दूर कर देते हैं। शास्त्रों के मतानुसार यह अष्ट चिरंजीवी हैं।


मंदिर में भक्त नित्य ही अपनी मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए जाते हैं लेकिन मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी का विशेष दिन होता है। ज्योतिष के अनुसार हनुमान जी की पूजा से व्यक्ति की कुंडली में उत्पन्न हुए समस्त अशुभ ग्रह दोषों का प्रभाव स्वत: ही समाप्त हो जाता है। तभी तो प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को हनुमान मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहता है।


इस दिन इन्हें सरलता से खुश किया जा सकता है और अपने सभी मनोरथ पूरे किए जा सकते हैं। पान से प्रसन्न होते हैं हनुमान जी। पान चढ़ाने से भक्तों को दे देते हैं मनचाहा वरदान तो मंगलवार और शनिवार को बिना चूना लगा हुआ एक मीठा पान हनुमान जी को अर्पित करें। पान चढ़ाने के साथ ही तेल का दीपक जलाएं और फूल माला चढ़ाएं। जो भी भक्त इस दिन पान चढ़ाता है उसे मिल जाता है हनुमान जी का आशीर्वाद और हनुमान जी पूरी कर देते हैं भक्तों की हर मुराद।








Post a Comment

Previous Post Next Post