गांगुली को अस्पताल से बुधवार को मिल सकती है छुट्टी, अगली एंजियोप्लास्टी पर फैसला टला

गांगुली को अस्पताल से गुरुवार को मिल सकती है छुट्टी, अगली एंजियोप्लास्टी पर  फैसला टला - Sourav Ganguly india vs australia heart attack bcci boss ganguly  tspo - AajTak

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के मौजूदा अध्यक्ष सौरव गांगुली को बुधवार को अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है. वुडलैंड्स अस्पताल के एक सूत्र ने इस बात की जानकारी दी. मेडिकल टीम के एक सदस्य ने बताया, 'जाने-माने कार्डिक सर्जन डॉ. देवी शेट्टी मंगलवार को गांगुली को देखेंगे. इसलिए कल नहीं बल्कि उम्मीद है कि परसों अस्पताल से उन्हें छुट्टी मिल जाएगी.


गांगुली की शनिवार को एंजियोप्लास्टी की गई. उन्हें सीने में दर्द के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टर ने कहा, 'गांगुली अब स्थिर हैं. उनकी एंजियोप्लास्टी की गई. अस्पताल के मुताबिक सौरव गांगुली के दिल की नसों में बाकी ब्लॉकेज के लिए होने वाली अगली एंजियोप्लास्टी पर फैसला बाद में लिया जाएगा, क्योंकि वह पहले से काफी बेहतर हैं. उन्हें घर में आराम करने को कहा गया है.'

इससे पहले वुडलैंड्स अस्पताल के 8 सदस्यों की चिकित्सा बोर्ड की मीटिंग आज सुबह 11:30 बजे हुई, जिसमें सौरव गांगुली के परिवार के सदस्यों के साथ आगे की उपचार योजनाओं पर चर्चा हुई. बोर्ड के सदस्यों ने सौरव गांगुली के मेडिकल रिकॉर्ड और उनके मौजूदा हाल की समीक्षा की.

बोर्ड की बैठक के दौरान गांगुली के परिवार के सदस्य भी मौजूद थे और उन्हें आगे की उपचार योजनाओं के बारे में बताया गया. इलाज करने वाले डॉक्टर्स गांगुली के स्वास्थ्य की स्थिति पर निरंतर निगरानी रखेंगे और अस्पताल से छुट्टी होने पर घर पर भी उनके लिए स्वास्थ्य संबंधी प्लान तैयार किए जाएंगे.


इससे पहले अस्पताल की ओर से बयान में कहा गया था कि सौरव गांगुली ने रविवार रात 10 बजे खाना खाया. उन्होंने डिनर में दाल, सब्जी, चावल और कस्टर्ड लिया. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली डॉ सरोज मंडल, डॉ सौतिक पांडा, डॉ सप्तर्षि बासु की निगरानी में हैं. बता दें कि सौरव गांगुली की तबीयत शनिवार (2 जनवरी) सुबह अचानक खराब हो गई थी.

गांगुली को शनिवार को चक्कर आने और ब्लैकआउट के अलावा सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें यह शिकायत अपने घर में बने जिम में वर्जिश करने के बाद हुई थी. इसके बाद उन्होंने अपने पारिवारिक डॉक्टर को बुलाया जिन्होंने पूर्व बल्लेबाज को अस्पताल में भर्ती करने की सलाह दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई बड़े लोगों ने फोन कर गांगुली का हालचाल पूछा था. गांगुली ने मोदी से कहा था कि वह अब अच्छा महसूस कर रहे हैं. मोदी ने उनकी पत्नी डोना से भी बात की थी.

Post a Comment

Previous Post Next Post