यूपी पंचायत चुनाव: वोटर लिस्ट में नहीं नाम तो ना करें चिंता, ऐसे करें…



लखनऊ: उत्तर प्रदेश में होने जा रहे पंचायत चुनाव में आप वोट डालना चाहते हैं और आपका नाम वोटर लिस्ट में नहीं है तो आपके लिए अच्छी खबर है. आपकी परेशानी को दूर करने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग, आपको वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने का एक मौका दे रहा है. मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए आप आवेदन कर सकते हैं.

पंचायत चुनाव की अधिसूचना तक वोटर लिस्ट में नाम जोड़े जा सकेंगे
उत्तर प्रदेश में जल्द ही पंचायत चुनाव होने वाले हैं और इसको लेकर निर्वाचन आयोग ने तैयारी तेज कर दी हैं. निर्वाचन आयोग के मुताबिक यदि वोटर लिस्ट में किसी का नाम छूट गया है या किसी को अपना नाम वोटर लिस्ट में जुड़वाना है तो वे आखिरी वोटर लिस्ट जारी होने के बाद भी ऐड करा सकते हैं. इसके अलावा किसी को अपने वोटर आईडी कार्ड में त्रुटि ठीक करानी है तो वो भी करवा सकते हैं.

22 जनवरी को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन
यूपी में पंचायत चुनाव के लिए आयोग द्वारा चार दिसंबर 2020 को वोटर लिस्ट के वृहद पुनरीक्षण की अधिसूचना जारी की गई थी. अधिसूचना के मुताबिक 22 जनवरी को वोटर लिस्ट का अंतिम रुप से प्रकाशन किया गया था.

परिपत्र जारी
राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिला मजिस्ट्रेट और सह जिला निर्वाचन अधिकारियों के नाम परिपत्र जारी किया है. इसके तहत त्रिस्तरीय पंचायतों के निर्वाचक नामावलियों के वृहद पुनरीक्षण के दौरान तय समय तक दावे और आपत्तियों के निस्तारण की प्रक्रिया अपनाई जाएगी. इसमें ये तय कर लिया जाए कि यूपी पंचायत राज अधिनियम 1947 और उत्तर प्रदेश नियमावली 1994 के प्रावधानों के मुताबिक समीक्षा कराई जाए, जिससे किसी योग्य व्यक्ति का निर्वाचक नामावली में नाम दर्ज होने से नहीं रह जाए.

71 जिलों की अंतिम वोटर लिस्ट जारी
उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने 71 जिलों की अंतिम वोटर लिस्ट भी जारी कर दी है. इस बार 12.50 करोड़ वोटर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. 2015 के मुकाबले करीब 52 लाख वोटर बढ़े हैं. पिछली बार 11.76 करोड़ मतदाता थे.

विभाग की सभी तैयारी पूरी
पंचायत चुनावों को लेकर विभाग की सभी तैयारी पूरी हो चुकी है. 20 मार्च के बाद कभी भी अधिसूचना जारी की जा सकती है. आरक्षण नीति को लेकर बस शासनादेश आना बाकी है.

त्रिस्तरीय होंगे पंचायत चुनाव
15 फरवरी को अधिसूचना जारी हो सकती है, जबकि मई के पहले सप्ताह तक त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न हो जायेंगे. पंचायत चुनाव त्रिस्तरीय होगा, जिसमे ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत का चुनाव कराया जाएगा.

बैलेट पेपर से कराए जाएंगे चुनाव
यूपी पंचायत चुनाव इस बार बैलेट पेपर से कराए जाएंगे. इसको लेकर चुनाव आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. जिलों पर मतपत्र भेजे जाने लगे हैं.

Post a Comment

Previous Post Next Post