उत्तराखंड: भतीजे के साथ अवैध संबंधों में रोड़ा बन रहा था पति..पत्नी ने करवा दी हत्या..




उत्तराखंड का मैदानी जिला ऊधमसिंहनगर। 14 जनवरी को यहां एक युवक की खून से लतपथ लाश मिली थी। क्षेत्र में हुए जघन्य हत्याकांड से हर कोई सन्न था। इस मामले में मृतक की पत्नी ने तीन युवकों के खिलाफ अफजलगढ़ थाने में हत्या का केस दर्ज कराया था। पुलिस की जांच आगे बढ़ी तो हत्याकांड को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ। पुलिस के अनुसार युवक की हत्या उसकी पत्नी ने ही कराई थी। मृतक की पत्नी के अपने भतीजे संग अवैध संबंध थे। पति इन संबंधों में रोड़ा बन रहा था। ऐसे में पत्नी ने पति की हत्या करा दी। घटना जसपुर की है। 14 जनवरी को यहां गांव रायपुर से मच्छमार जाने वाले रास्ते पर नहर किनारे एक युवक की लाश मिली थी। मरने वाले युवक की शिनाख्त वीर सिंह के रूप में हुई। 

मृतक की पत्नी ने तीन लड़कों पर वीर सिंह की हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस पूछताछ में तीनों युवक बेगुनाह निकले। इसके बाद पुलिस ने मृतक के भतीजे सोमपाल को गिरफ्तार कर उससे सख्ती से पूछताछ की। पहले तो सोमपाल ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस की सख्ती के आगे वो टूट गया। सोमपाल ने बताया कि उसका चाचा वीर सिंह मजदूरी करता था। सोमपाल भी उसी के साथ काम करता था। दो साल पहले सोमपाल के उसकी चाची सुशीला के साथ अवैध संबंध बन गए। दोनों साथ में वक्त गुजारने लगे। इस बीच दो महीने पहले वीर सिंह ने अपनी पत्नी और भतीजे को आपत्तिजनक हालत में देख लिया। जिसके बाद वीर सिंह ने पत्नी की पिटाई कर दी। अब आगे पढ़िए


इससे सुशीला आहत थी। वो पति से बदला लेना चाहती थी। सुशीला ये मौका जल्द ही मिल भी गया। कुछ दिन पहले वीर सिंह का गांव के तीन लड़कों से झगड़ा हो गया। इसके बाद सुशीला ने सोमपाल को उकसाकर पति को रास्ते से हटाने को कहा। साथ ही ये भी कहा कि वो हत्या का इल्जाम वीर सिंह संग झगड़ा करने वाले युवकों पर लगा देगी। प्लान तैयार होते ही सोमपाल 14 जनवरी को अपने दोस्त लवकुश और अनस को लेकर क्षेत्र में आ गया। तीनों गांव हरपुर के पास खड़े होकर वीर सिंह के आने का इंतजार करने लगे। जैसे ही वीर सिंह बाइक से मौके पर पहुंचा तीनों ने उसके सिर पर डंडों से प्रहार कर उसकी जान ले ली। बाद में लाश को नहर में फेंक कर तीनों अपने घर चले गए। इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी समेत चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। कोर्ट में पेश करने के बाद सभी को जेल भेज दिया गया।

Post a Comment

Previous Post Next Post