पहली रात बिताने के बाद दुल्‍हन ने पति को किया रिजेक्‍ट, रिसेप्‍शन में माइक पर बताया छोड़ने का कारण..-



भारत में शादि का एक बड़ा ही अलग महत्‍व है कहते हैं कि शादी गुड्डे गुडियों का खेल नहीं इसे अग्नि को साक्षी मान कर सात फेरे लेकर ही समपन्‍न किया जाता है जिससे उनका साथ सात जन्मों तक रहता है और इसी शादी को समाज में मान्‍यता भी प्राप्‍त है लेकिन ये बात तो पुरानी पीढी के अनुसार है क्‍या आज के युवा इस तथ्‍य को स्‍वीकार करते हैं। शायद नहीं तभी तो आज जो खबर सामने आई है उसे सुनकर हर किसी के होश उड़ गए।



दरअसल अग्नि को साक्षी मानकर ही इन लड़के लड़की ने पूरे रस्‍मों रिवाज के साथ शादी की थी लेकिन ये शादी सफल नहीं हो पाई क्‍योंकि आज के युवाओं की सोच है "पहले इस्तेमाल करें फिर विश्वाश करें"।

पंजाब की रहने वाली ये दुल्हन जब शादी करके अपने पति के पास गई उसके बाद पहली रात बितते ही उसने सबके सामने दूल्हे के साथ रहने के लिए मना कर दिया। जब सबने कारण पूछा तो उसने जो बताया उसे सुनकर सबके पैरों तले से जमीं खिसक गयी।

बता दें 14 जुलाई को डबवाली के रहने वाले लड़के की शादी चंडीगढ़ के सेक्टर-45 में ब्यूटी पार्लर चलाने वाली लड़की के साथ राजपुरा के एक रेस्टारेंट में हुई थी। ये शादी लव मैरेज हुई थी जिसके कारण लड़की के माता पिता उस शादी में शामिल नही हुए। गुरुद्वारे में सम्पन्न इस शादी में मात्र दोनों तरफ से करीबी परिजन ही शामिल हुए थे। शादी समपन्‍न होने के बाद दूल्हे के घर पर रिसेप्शन रखा गया लेकिन उस रिसेप्‍सन में दुल्हन ने एकदम से माइक को पकड़कर सबके सामने ये एलान कर दिया की वे इस शादी से खुश नहीं है और पति के साथ नहीं रहना चाहती।

इसके बाद पार्टी में खलबली मच गई। सब परेशान थे कि अचानक ऐसा क्‍या हो गया कोई कुछ समझ नहीं पा रहा था। पुलिस को बुलाया गया फिर पुलिस ने पूरा मामला शांत करा दिया और लड़की से पति को छोड़ने का असली वजह पूछा गया। लड़की ने बताया की उसे पति पसंद नहीं है। लड़की ने साफ तौर पर पुलिस को लिखित में भी सौंप दिया कि वह अब तलाक चाहती है। लड़के ने उससे बहुत गुहार लगाई की वो अपना फैसला वापस ले लें लेकिन लड़की ने अपना फैसला नहीं बदला और फिर अपने माता पिता के साथ वहां से चल गई।



Post a Comment

0 Comments