बेटे ने मां को जलाया, फिर चिता पर मुर्गा भूनकर खाया, खौफनाक था मंजर...[



चाईबासा: पश्चिमी सिंहभूम जिला अंतर्गत मनोहरपुर थाना क्षेत्र के जोजोगुट्टू गांव में पिता की हत्या में जेल जा चुके एक युवक ने अपनी मां की हत्या कर दी और उसके शव को जलाकर चिता पर चिकन बनाने लगा. मामले की सूचना मिलने पर ग्रामीणों ने आरोपी को बंधक बना लिया और पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. वारदात शुक्रवार रात आठ बजे की है.

ग्रामीणों में आक्रोश
जोजोगुट्टू के नवाबीर टोला निवासी लगभग 35 वर्षीय प्रधान सोय मानसिक रूप से विक्षिप्त बताया जा रहा है. उस पर 4 वर्ष पूर्व अपने पिता की हत्या करने का भी आरोप है और इस मामले में वह जेल से छूट कर बाहर आया था. उसकी भाभी ने बताया कि प्रधान सोय ने अपनी मां की हत्‍या कर दी. घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी रात भर घर मे ही रहा और शनिवार सुबह उसने अपनी मां की अधजली शव को घर के अंदर चूल्हे में फेंक दिया. फिर मां की चिता जलाई और उसकी जलती चिता पर मुर्गा सेंक कर खाने लगा. इसके बाद उसकी भाभी सोमवारी सोय ने ग्रामीणों को घटना की जानकारी दी. ग्रामीणों के अनुसार प्रधान सोय लगभग चार साल पहले उसने अपने पिता गोपाल सोय की भी हत्‍या कर दी थी. घटना को लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है.

आरोपी की भाभी की जुबानी पूरी कहानी

इधर घटना को लेकर प्रधान सोय की भाभी सोमवारी सोय ने बताया कि बीते शुक्रवार की रात लगभग 8 बजे वो और उसकी सास सोने की तैयारी कर रही थी. इतने में प्रधान सोय नशे की हालत में घर पहुंचा,तथा उसे लाठी डंडे से पीटने लगा. जिसके बाद सोमवारी अपने दुधमुंहे एक महीने के बेटे को लेकर घर से निकल कर कुछ दूर एक पेड़ के पास जाकर छिप गई. इसके बाद सोमवारी ने देखा कि प्रधान सोय घर के आंगन में अपनी 60वर्षीय मां सुमी सोय को लाठी डंडे से पीट कर उसकी हत्या कर दी तथा घर के आंगन में ही लकड़ी व धान-भूसे की चिता सजा कर मां के शव को जलाने लगा. कुछ देर बाद जलती हुई चिता के प्रधान ने मुर्गा सेंक कर खाया और फिर घर के अंदर सोने चला गया. घटना से डरी सहमी सोमवारी ने रात को घटना की जानकारी अपने पड़ोसियों को दी. जब पड़ोसी घर के पास पहुंचे और प्रधान को आवाज लगाई तो प्रधान उन्हें भी मारने की कोशिश करने लगा. रात बीत जाने के बाद शनिवार सुबह लगभग साढ़े छह बजे जब सोमवारी घर के आंगन में पहुंची तो देखा कि प्रधान अपने मां के अधजले शव को घर के अंदर ले गया और चूल्हे में डाल दिया. इसके बाद वो भागने लगा,जिस पर शोर मचाने पर ग्रामीणों ने उसे दौड़ा कर पकड़ा. घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने प्रधान के हाथ पैर को रस्सी से बांध कर घटना की जानकारी पुलिस को दी.

घंटों की मशक्कत के बाद शव के अवशेष हुए बरामद
घटना की जानकारी मिलने के बाद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विमलेश कुमार त्रिपाठी, पुलिस निरीक्षक फागु होरो, थाना प्रभारी राहुल कुमार दलबल सहित घटना स्थल पहुंचे. डीएसपी विमलेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस के पहुंचने तक शव पूरी तरह जल चुका था. बस शरीर के बीच के कुछ हिस्से बचे हुए हैं. फिर घंटे भर की मशक्कत के बाद पुलिस ने अधजले शव को पानी से बुझा कर शव के अवशेष को बरामद किया. पुलिस ने अवशेष को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इसके साथ ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया

पोस्टमार्टम के लिए भेजा
मनोहरपुर डीएमसपी विमलेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सुमी सोय के अधलजे शव के अवशेष बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया हैं. साथ ही आरोपी प्रधान सोय को गिरफ्तार कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है.

Post a Comment

Previous Post Next Post