गाय के अमृत जैसे दूध के होते है इतने फायदें जानकार आप भी हो जायेंगे हैरान...

गाय के अमृत जैसे दूध के होते है इतने फायदें जानकार आप भी हो जायेंगे हैरान -  Namanbharat

गाय के दूध को पूर्ण भोजन माना गया है यानी कई दिन तक केवल गाय का दूध पीकर कोई भी एकदम स्‍वस्‍थ और ताकतवर बना रह सकता है। गाय का दूध गुणों का भण्डार हैं, इस दूध से अनेक बीमारिया सही होती हैं, जिन कारणों से ही भारत के लोगो में गाय के प्रति अपार स्नेह श्रद्धा और मातृत्व भाव होता हैं। आज हम जानेंगे के दूध के ऐसे अनजाने गुण जो हमने कभी सुने ही नहीं थे और जिन वजहों से ये अमृत तुल्य हैं।

देशी गाय के दूध व गोमूत्र के नियमित सेवन से सामान्य रोगों से बचाव किया जा सकता है। कहा जाता है कि समुद्र मंथन के दौरान 14 रत्नों में से एक गौमाता भी अवतरित हुई थी। गाय के दूध में शरीर में पैदा होने वाली कई तरह की बीमारियों को दूर करने की पूरी क्षमता है। सामान्य रोगों से लड़ने के लिए शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए देशी गाय का दूध घरेलू और सबसे उपयोगी उपाय है।

भारतीय नस्ल की गाय की रीढ़ की हड्डी में सूर्यकेतु नाड़ी होती हैं। सूर्य की किरणे जब गाय के शरीर को छूती हैं, तब सूर्यकेतु नाड़ी सूर्य की किरणों से सोना बनाती हैं। इसी कारण गाय के दूध और मक्खन में पीलापन होता हैं, गाय के दूध में विषनाशक तत्व होते हैं। गाय का दूध पीने से शुद्ध सोना शरीर में जाता हैं। दूध में मौजूद प्रोटीन “केसीन” की वजह से इसका रंग सफ़ेद होता हैं। दूध में सबसे पौष्टिक तत्व हैं कैल्शियम और विटामिन डी। कैल्शियम हमारी हड्डियों और दाँतो को मज़बूत बनाता हैं और विटामिन डी कैल्शियम को सोखने में मदद करता हैं।

कैंसर के बारे मे तो आप जानते ही होंगे जिसका नाम सुनते ही अच्‍छे-अच्‍छों के पसीने छूटने लगते हैं। लेकिन अगर आपको कहा जाये कि गाय का दूध पीने से कैंसर से बचा जा सकता है तो आप निस्संदेह इस बात को जानने के बाद आज से ही गाय का दूध पीना शुरू कर देंगे। जी हां, देशी गाय की पीठ पर मोटा सा हम्प होता है, जिसमें सूर्य ग्रंथि यानी सन ग्लैंड्स पाई जाती है। इसकी खासियत यह है कि यह दूध को बेहद गुणकारी और अमूल्य औषधि के रूप में बदल देती है।

Post a Comment

0 Comments