महिला ने 5 किलोग्राम वजनदार बच्चे को जन्म दिया, डॉक्टरों ने कही ये बात...




जोधपुर. जोधपुर के रेलवे अस्पताल में शनिवार को एक महिला ने 5 किलो वजनी बच्चे को जन्म दिया. इतने वजनी बच्चे को देख डॉक्टर और महिला के परिजन हैरत में हैं. फिलहाल, जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं. बताया जा रहा है कि आमतौर पर नवजात बच्चों का वजन 2.5 से 3.5 किलोग्राम के बीच होता है. रेलवे कर्मचारी देवानंद रॉय की पत्नी सोनी कुमारी ने बच्चे को जन्म दिया.

सोनी की सीजेरियन डिलीवरी कराने वाली अस्पताल की डॉ. नेहा तिवारी ने बताया कि सोनी रॉय के पहले भी एक बच्चा है, लेकिन वह 3.8 किलोग्राम का पैदा हुआ था. सोनी को डायबिटीज थी. हमने प्रयास कर पूरे प्रसव काल में उसकी शुगर को नियंत्रित रखा. पहले से लग रहा था कि बच्चा स्वस्थ होगा, लेकिन इतने वजन के बारे में सोचा नहीं था. खुशी की बात है कि मां-बेटा दोनों एकदम स्वस्थ हैं.

10 हजार में कोई एक इतना वजनदार पैदा होता है

वहीं, इस मामले में डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुराग सिंह का कहना है कि आमतौर पर नवजात बच्चों का वजन 2.5 से 3.5 किलोग्राम के बीच होता है. 30% बच्चों का वजन इससे भी कम होता है. लेकिन इतना तय है कि 90% बच्चों का वजन साढ़े तीन किलोग्राम से कम ही होता है. 10% अधिक वजन के होते हैं.

डॉ. सिंह का कहना है कि 5 किलोग्राम या उससे अधिक वजन के बच्चे बहुत कम पैदा होते हैं. 10 हजार बच्चों में से एक ही मामला ऐसा सामने आता है. अधिक वजन का बच्चा पैदा होने के कई कारण है. कुछ मामलों में यह नार्मल ही होता है. कुछ मामलों में यह किसी सिंड्रोम की वजह से भी हो सकता है. अधिक वजन का बच्चा पैदा होना किसी प्रकार की चिंता का कारण नहीं है. नवजात के पिता देवानंद का कहना है कि वे इतना हेल्दी बच्चा देख बहुत प्रसन्न हैं. इससे पहले उनके एक बेटा है. उनका कहना है कि उसका वजन भी इतना अधिक नहीं था. हमारे परिवार में भी यह पहला ऐसा मामला है.

Post a Comment

Previous Post Next Post