बड़ी खबर : कुंडली बॉर्डर से 45 हजार ट्रैक्टर दिल्ली की ओर करेंगे...|




सोनीपत। हरियाणा में सोनीपत के कुंडली बार्डर से मंगलवार सुबह 10 बजे करीब दो लाख किसान 45 हजार ट्रैक्टरों पर सवार होकर दिल्ली की ओर कूच करेंगे। माना जा रहा है कि सुबह राजपथ पर आयोजित होने वाले राष्ट्रीय पर्व के समापन के साथ ही किसानों की ट्रैक्टर परेड शुरू हो जाएगी। पुलिस द्वारा जो रूट निर्धारित किए गए हैं, उन पर ट्रैक्टरों के साथ ही किसानों द्वारा तैयार की गई झांकिया और राशन से भरी ट्रालियां भी साथ होंगी।

माना जा रहा है कि किसान वापस अपने धरनों पर रात को ही पहुंचना शुरू हो जाएंगे, लेकिन ट्रैक्टरों की संख्या ज्यादा और रूट लंबा होने के कारण अगले दिन भी वापसी जारी रहेगी। किसान नेताओं के अनुसार मंगलवार को सुबह ही दिल्ली पुलिस बैरिकेट्स हटा लेगी और फिर ट्रैक्टर परेड में पुलिस की ओर से कोई बाधा नहीं डाली जाएगी। रूट प्लान पर किसानों के साथ पुलिस ने सोमवार को बैठक कर स्थिति साफ कर ली है।

कुंडली बार्डर पर राजमार्ग संख्या-44 पर करीब 22 किलोमीटर का हिस्सा किसानों के कब्जे में रहा। इसके साथ ही के.जी.पी.-के.एम.पी. पर भी करीब 5 किलोमीटर तक ट्रैक्टरों की दो-दो कतारें लगी रही। सोनीपत प्रशासन ने इससे एक दिन पहले किसानों की ट्रैक्टर परेड के चलते लोगों को आगाह कर दिया था कि 28 जनवरी तक दिल्ली आवागमन से बचना चाहिए। यूं तो किसान ट्रैक्टर परेड की तैयारियों में 15 दिनों से लगे हुए हैं, लेकिन पिछले तीन दिनों से अचानक ट्रैक्टरों की तादाद बढ़ गई है।

लगातार ट्रैक्टरों का जमावड़ा बढ़ता जा रहा है और दो दिनों में हरियाणा से आने वाले ट्रैक्टरों की संख्या ज्यादा है। कुंडली बार्डर पर ट्रैक्टर पहुंचने का सिलसिला देर रात तक भी जारी रहा। इन सबके बीच आज किसान दिल्ली में ट्रैक्टर परेड निकालेंगे तो दुनियाभर की नजर किसानों की इस परेड पर होगी। ऐसे में तैयारियों को अंतिम रूप देने में किसान देर रात तक लगे रहे।

किसानों ने न केवल 50 से ज्यादा झांकिया तैयार की है बल्कि हर ट्रैक्टर पर किसानी झंडे के साथ तिरंगा भी लगाया है। सोमवार को पूरा दिन किसान तैयारियों में लगे रहे। किसान इससे पहले 24 जनवरी को ही फाइनल रिहर्सल कर चुके हैं। ट्रैक्टर परेड के लिए कुंडली बार्डर पर फिलहाल 45 हजार से ज्यादा ट्रैक्टर और करीब दो लाख के करीब किसान जुट चुके हैं। हालात ऐसे हैं कि करीब 20 किलोमीटर तक जी.टी. रोड पर पैदल निकलना भी मुश्किल है। उधर कुछ युवा बाइकर्स अपने करतब दिखाएंगे तो दूसरी ओर निहंग श्रद्धालु तलवारबाजी से सभी को चौकाएंगे।

ट्रैक्टरों पर देशभक्ति व किसानी से संबंधित गान चलने के साथ ही देश के शहीदों का गुणगान किया जाएगा। किसानों ने दो से तीन दिन का राशन साथ लिया है। जो किसान देर से वापसी कर पाएंगे, उनके लिए लंगर का पूरा प्रबंध रहेगा। किसानों ने कुछ ऐसे युवाओं व कलाकारों को शामिल किया है जो लगातार किसानों का हौंसला बढ़ाएंगे।

नारेबाजी जरूर होगी, लेकिन हो-हल्ले से परहेज किया गया है। किसानों ने हर टीम को अनुशासन में रहने का संदेश दिया है साथ ही जो उपद्रव करे, उसे दबोचने के लिए भी किसानों के पास अलग से वालंटियर मौजूद रहेंगे। सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए उपायुक्त, सोनीपत ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं। जिलाधीश ने अपने आदेशों में पुलिस स्टेशन सदर गोहाना क्षेत्र में खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी गोहाना मनोज कौशल के साथ इंस्पेक्टर करमजीत सिंह सदर गोहाना की ड्यूटी लगाई है।

पुलिस स्टेशन राई क्षेत्र में नगर निगम अकाउंट अधिकारी के साथ इंस्पेक्टर विवेक मलिक पुलिस स्टेशन राई, नगर पालिका कट से केएमपी पानीपत से होते हुए दिल्ली की तरफ आंतरिक क्षेत्र पर एसडीओ यूएचबीवीएन कुंडली रोहित कुमार के साथ असिस्टेंट कमांडेंट बीएसएफ जितेन्द्र तथा सिंधू बार्डर से केएफसी कट सहित आंतरिक क्षेत्र पानीपत से दिल्ली की तरफ एसडीओ पीडब्ल्यूडी बीएंडआर के साथ असिस्टेंट कमांडेंट आरएएफ व्यवहार सिंह की ड्यूटी लगाई है। इधर, रेलवे स्टेशनों पर भी ड्यूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए हैं। राठधाना, हरसाना कलां, सोनीपत, सांदल कलां, राजलू गढ़ी व गन्नौर रेलवे स्टेशन थाना राजकीय रेलवे पुलिस, सोनीपत व गोहाना तथा मुंडलाना रेलवे स्टेशन चौकी राजकीय रेलवे पुलिस गोहाना के अधिकार क्षेत्र में दो दिन के लिए स्पेशल इयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं।






Post a Comment

Previous Post Next Post