30 रुपए तक हो सकते हैं चिकन के दाम, जानिए इसकी सबसे बड़ी वजह




नई दिल्ली। देश में कोरोना पर काबू पाने के लिए जद्दोजहद जारी है, वहीं अब एक और खतरनाक बीमारी का आगाज हो गया है। बर्ड फ्लू की शुरुआत पक्षियों से होती है। बर्ड फ्लू चिकन से तेजी से फैलता है। दिल्ली के गाजीपुर स्थित एक बहुत बड़ी मुर्गा मंडी है, जहां के दुकानदार अब चिंतित नजर आ रहे हैं। गजीपुर स्थित मुर्गा मंडी में हर दिन लाखों रुपये का व्यापार होता है। मुर्गा मंडी में करीब 88 दुकाने हैं, जहां मुर्गो का व्यापार होता है और रोजाना करीब 100 ट्रक माल आता है। हालांकि बर्ड फ्लू के फैलने से दुकानदार बेहद परेशान हैं।

व्यापारी चिंतित, कारोबार में पड़ेगा असर
व्यापारियों के मुताबिक, इस बीमारी को काबू नहीं किया गया तो मुर्गे के व्यापार पर काफी फर्क पड़ेगा और दाम गिर जाएंगे। फिलहाल ये बीमारी मध्यप्रदेश, राजस्थान के बाद अब हिमाचल और केरल राज्य तक फैल चुकी है। गाजीपुर मंडी में एक दुकान चलाने वाले मोहम्मद अनस के अनुसार बर्ड फ्लू बीमारी की वजह से मुर्गे के दाम पर काफी फर्क पड़ेगा। वहीं लोग मुर्गा खाने में कतराएंगे। उन्होंने आगे बताया कि इस बीमारी से मार्केट में भी फर्क पड़ेगा। ये हमारे लिए चिंता की बात है। साथ ही जो मुर्गे का पालन पोषण करते हैं, उनको भी नुकसान होगा। इस तरह से उनका खर्चा तक नहीं निकल सकेगा। बाजारों में भी मुर्गों के दाम बिल्कुल गिर जाएंगे।

जिंदा मुर्गा 30 रुपए, मांस 100 रुपए तक गिरेगा
दरअसल मौजूदा स्थिति की बात करें तो थोक में जिंदा मुर्गे की कीमत 90 रुपए प्रति किलो है। यदि बीमारी का असर दिखा तो ये दाम 20-30 रुपए पर आ जाएंगे। यदि कोई ग्राहक सिर्फ मुर्गे का मांस खरीदता है तो उसे 160 रुपए प्रति किलो चुकाना होता है। वहीं ये बीमारी नहीं रुकी तो ये दाम 100 रुपए प्रति किलो तक गिर जाएंगे। मौजूदा समय में 90 रुपए से लेकर 95 रुपए प्रति किलो तक मंडी में जिंदा मुर्गे के दाम हैं।

जांच के बाद ही बिक्री के लिए लाते हैं मुर्गा
गाजीपुर होलसेल पोल्टरी एसोसिएशन के अध्यक्ष सलाउद्दीन ने बताया कि हमारी मंडी में अब तक किसी तरह का कोई बर्ड फ्लू का मामला नहीं आया है। साथ ही हमारे यहां जहां से माल आता है, वहां भी अभी तक इस तरह की कोई सूचना नहीं है। यदि बीमारी फैली तो व्यापार ठप हो जाएगा। हमारे यहां डॉक्टर हर दिन मुर्गो की जांच करते हैं और जांच होने के बाद ही इन मुर्गो को बाजार में उतारा जाता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post