वर्ष 2020 में टूट गए एमएस धोनी के ये 5 महा-रिकॉर्ड



एमएस धोनी अब तक के सबसे महान क्रिकेट कप्तानों में से एक होंगे. रांची में जन्मे विकेटकीपर बल्लेबाज ने भारतीय क्रिकेट को अपने ‘बॉक्स ऑफ आउट’ सोच के साथ अगले स्तर पर ले गए. उनकी कप्तानी में, भारतीय क्रिकेट टीम ने ICC T20 विश्व कप 2007, ICC चैंपियंस ट्रॉफी 2013 और 2011 में ICC क्रिकेट विश्व कप जीता.

इसके अलावा, भारतीय टेस्ट टीम ने सभी देशों को पछाड़कर आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1 रैंक हासिल की. विकेटकीपर बल्लेबाज ने भारतीय क्रिकेटर के रूप में अपने समय के दौरान कुछ अनोखे रिकॉर्ड बनाए. हालांकि, उन्होंने 15 अगस्त, 2020 को अन्तराष्ट्रीय से संन्यास का फैसला किया. एमएस धोनी ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी रिटायरमेंट की घोषणा की.

आज इस लेख में हम एमएस धोनी के 5 रिकार्ड्स के बारे में जानेगे, जो साल 2020 में टूट गए.

5) सबसे अधिक टी20I अर्द्धशतक लगाने वाले भारतीय




एमएस धोनी ने निचले क्रम पर बल्लेबाजी की और अक्सर भारतीय क्रिकेट टीम के लिए कैमियो नॉक खेला. दाएं हाथ के बल्लेबाज ने T20Is में भारतीय जर्सी में बल्लेबाजी करते हुए केवल दो अर्धशतक लगाये.

केएल राहुल ने हाल ही में खेल के सबसे छोटे प्रारूप में विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में अपना तीसरा अर्धशतक दर्ज करके एमएस धोनी का रिकॉर्ड तोड़ा. राहुल ने इस साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 मैचों की टी20I सीरीज में दो अर्द्धशतक लगाए थे. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल ही में समाप्त हुई T20I श्रृंखला में, किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान ने पहले मैच में अर्धशतक बनाया था.


4) नंबर 7 या उससे नीचे बल्लेबाजी करते हुए टी20I में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले इंडियन खिलाड़ी




एमएस धोनी ने भारतीय T20I टीम के निचले मध्य क्रम में बल्लेबाजी की. चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान ने मेन इन ब्लू के लिए टी20I में सातवें या उससे कम नंबर पर सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड बनाया.

हालांकि, रवींद्र जडेजा ने उसी T20I में उस रिकॉर्ड को तोड़ा, जहां केएल राहुल ने भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में अपना तीसरा अर्धशतक दर्ज किया था. खब्बू बल्लेबाज ने अपने सीएसके कप्तान के 2012 में इंग्लैंड के खिलाफ 38 रनों के रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए सातवें नंबर पर 44 रन बनाए.


3) अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में बतौर कप्तान सबसे अधिक छक्के





एमएस धोनी ने लम्बे समय के लिए भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी की. उनके नेतृत्व में, भारतीय टीम ने अकल्पनीय सफलता हासिल की. धोनी ने अपनी टीम में फिनिशर की भूमिका निभाई और भारत की कप्तानी करते हुए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 211 छक्के मारे.

इंग्लिश कप्तान इयोन मोर्गन ने इस साल के शुरू में तीसरे वनडे बनाम आयरलैंड में कप्तान के रूप में अपना 212 वां छक्का लगाकर धोनी को उस लीडरबोर्ड से पीछे छोड़ दिया. अंग्रेज खिलाड़ी अब ग्लोबल क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले कप्तानों में पहले स्थान पर है.

2) टी20I में सबसे अधिक डिसमिसल


एमएस धोनी ने T20Is में एक दशक से अधिक समय तक स्टंप्स के पीछे भारतीय क्रिकेट टीम के कीपिंग की. रांची के इस खिलाड़ी ने अपने T20I करियर में 54 कैच और 37 स्टंपिंग सहित 91 खिलाड़ियों को आउट किया.

ऑस्ट्रेलिया महिला क्रिकेट टीम की विकेटकीपर बल्लेबाज़ एलिसा हीली ने टी20I क्रिकेट इतिहास में सबसे ज़्यादा बार आउट होने वाले विकेटकीपरों की सूची में एमएस धोनी को पीछे छोड़ दिया. उन्होंने न्यूजीलैंड महिला के खिलाफ T20I में अपने करियर की 92वे खिलाड़ी को विकेट पीछे आउट किया.

1) सबसे अधिक टी20I रन बनाने वाले भारतीय कप्तान


एमएस धोनी ने टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में एक भारतीय कप्तान द्वारा सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया. लेकिन वह रिकॉर्ड वर्तमान भारतीय टी20I कप्तान विराट कोहली के नाम पर है.

दिल्ली के इस बल्लेबाज ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में इस साल की शुरुआत में एमएस धोनी का रिकॉर्ड तोड़ा था. धोनी ने भारतीय T20I कप्तान के रूप में 1,112 रन बनाए थे, जबकि विराट कोहली के अब 1,271 रन हैं.

Post a Comment

Previous Post Next Post