विश्व क्रिकेट का इकलौता बल्लेबाज जिसने मात्र 2 गेंद में ही बना डाले हैं 21 रन


भारत के इस बल्लेबाज ने बनाए हैं 2 गेंद में 21 रन


क्रिकेट के खेल में एक गेंद एक बल्लेबाज 1 छक्का लगाकर 6 रन बटोर सकता है, जब गेंदबाज उस गेंद को नो बॉल कर दे तो बल्लेबाज ज्यादा से ज्यादा एक और छक्का लगाकर स्कोर को 1 गेंद में 13 रन कर सकता है। क्रिकेट के खेल में ज्यादा से ज्यादा बड़ा स्कोरिंग शॉट ही 6 रन है जो क्रिकेट की शुरुआत से ही चला आ रहा है। ऐसे में स्वाभाविक है कि 1 गेंद में 13 रन से ज्यादा बनता नहीं देखा जाता है।

2 गेंद में 21 रन बनाने वाला इकलौता बल्लेबाज

भले ही आपको जानकार हैरानी हो लेकिन एक ऐसा बल्लेबाज भी है जिसने 2 गेंद में 21 रन बनाए हैं। विश्व क्रिकेट में अब तक एक ही बल्लेबाज कर सका है। 2 गेंद में 21 रन… ये सुन आपको यकिन तो नहीं हो रहा होगा,



लेकिन ये वाकई में हुआ है, इस कारनामें को अंजाम किसी और ने नहीं बल्कि भारतीय बल्लेबाज ने दिया है और वो हैं भारत के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग…

राणा नावेद की गेंद पर सहवाग ने किया है कमाल

जी हां… पूरे क्रिकेट इतिहास में 2 गेंद में 21 रन बनाने का कमाल वीरेन्द्र सहवाग ने किया है। भारत के महान सलामी बल्लेबाज रहे वीरेन्द्र सहवाग अपने दौर के सबसे खतरनाक बल्लेबाज हुआ करते थे। उन्होंने ये कमाल पाकिस्तान के खिलाफ राणा नावेद उल हसन की गेंद पर किया।

ये बात है साल 2004 में पाकिस्तान के खिलाफ एक वनडे मैच की। 13 मार्च 2004 को पाकिस्तान के खिलाफ वनडे मैच खेला गया। इस मैच में सहवाग ने राणा नावेद उल हसन के ओवर में 2 गेंद पर ही 21 रन बना डाले। पारी के 11वें ओवर में नावेद गेंदबाजी करने आए।

सहवाग ने 2 लीगल गेंद पर राणा नावेद को ले लिए 21 रन

इस ओवर की पहली गेंद पर वीरू ने चौका जड़ दिया। ये गेंद अंपायर ने नो बॉल करार दी। दूसरी गेंद भी नो रही जिस पर सहवाग ने फिर से चौका लगा दिया। राणा ने एक और नो बॉल कर दी, और इसके साथ ही भारतीय टीम ने बिना कोई गेंद में ही 11 रन बना डाले।



राणा नावेद उल हसन इस ओवर में कोई लीगल बॉल नहीं डाल सके थे और भारत के खाते में 11 रन जुड़ चुके थे। इसके बाद नावेद ने अगली गेंद डाली जो इस ओवर की पहली सही गेंद रही जिस पर सहवाग कोई रन नहीं ना सके। इसके बाद अगली गेंद फिर से राणा ने नो बॉल डाली और सहवाग ने चौका लगा दिया। नो बॉल और चौके को मिलाकर भारत ने 1 गेंद में ही 16 रन बना डाले। अगली गेंद फिर से नो बॉल रही और वीरू कोई रन तो नहीं ले सके, लेकिन 1 गेंद में 17 रन बन चुके थे।

इसके बाद राणा की अगली गेंद पर वीरेन्द्र सहवाग ने फिर से चौका लगा दिया और इस सही गेंद के साथ ओवर में केवल 2 गेंद ही हुई थी और भारत ने 21 रन बना डाले। यहां सहवाग ने इस ओवर में केवल 2 लीगल बॉल का सामना किया और 21 रन बना डाले। लगातार नो बॉल डालने से 2 गेंद में 21 रन का रिकॉर्ड बन गया।

Post a Comment

0 Comments