199 का लहंगा पड़ा महंगा, ये दास्तां सुन कहेंगे ना बाबा ना..

199 का लहंगा पड़ा महंगा, ये दास्तां सुन कहेंगे ना बाबा ना..

जोधपुर. राजस्थान के जोधपुर जिले के मंडोर थाना इलाके के नागौरी बेरा में साइबर ठगी का बड़ा मामला सामने आया है। मंडोर थाना इलाके के नागौरी बेरा में रहने वाली एक छात्रा के साथ साइबर ठगी की गई है। छात्रों को लहंगा ऑनलाइन बुक करवाना महंगा पड़ा। छात्रा को लहंगा तो नहीं मिला, लेकिन करीब 1 लाख रुपये और गंवाने पड़ गए।छात्रा ने लहंगा नहीं मिलने पर रिफंड के 199 रुपए मांगे तो शातिर ने गूगल पे से उसके खाते से 1 लाख गायब हो गए।

महंगा पड़ा लहंगा
मतलब ये कि लहंगा तो मिला नहीं और रिफंड के 199 रुपए मांगे जाने पर किसी शातिर ने गूगल पे से उसके खाते से 99 हजार से ज्यादा की रकम साफ कर दी। पीड़िता ने अब मंडोर थाने में केस दर्ज कराया।

लहंगे का स्टॉक खत्म
मंडोर थानाधिकारी सुरेशचंद सोनी ने बताया कि प्रेक्षा पुत्री कृष्ण कुमार पांडे ने रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि वह पढ़ाई करती है और उसने ऑनलाइन एक लहंगा 199 रुपए में 8 जनवरी को बुक कराया था। लहंगा 9 को मिल जाना चाहिए था। मगर वो नहीं मिला। तब उसने गूगल पर कस्टमर केयर पर संपर्क किया। तब उसे बताया गया कि लहंगे का स्टॉक खत्म हो गया है और पैसे रिफंड कर दिए जाएंगे।

ऐसे बनी साइबर ठगी का शिकार
इस पर उसने बताया कि वह फोन से ही गूगल पे एकाउंट भेजती है। तब शातिर ने पहले एक रुपया उसके खाते में रिफंड किया। फिर उसे डेबिट कर दिया। बाद में उसने फिर से एक रुपया रिफंड किया और डेबिट कर दिया। इसके बाद वह लगातार खाते से रुपए निकालता गया और कुल 95 हजार 874 रुपए निकाल लिए। इसके बाद फिर से 3 हजार 129 रुपए निकाले। खाते से रुपए निकलते देख उसने अपने बचे हुए रुपयों को दूसरे खाते में ट्रांसफर किया। शातिर को पीड़िता ने अपने एसबीआई अकाउंट की जानकारी भी दी थी।


Post a Comment

Previous Post Next Post