स्टील की बॉल नहीं, ये है दुनिया की सबसे कीमती चीज, 1 ग्राम की कीमत में खरीदे जा सकते हैं 100 छोटे देश--||



आज के समय में सोने-चांदी का भाव आसमान छू रहा है। लोग हर चीज के बढ़ते दाम से परेशान हैं। सोने और हीरे की कीमत से तो आप वाकिफ होंगे लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में एक ऐसी चीज है जो इतनी महंगी है कि इसके 1 ग्राम की कीमत में आप सौ छोटे-छोटे देश खरीद सकते हैं। इतना ही नहीं, आप चाहें तो इतनी कीमत में पाकिस्तान जैसे दो देश आसानी से खरीद सकते हैं। ये वस्तु है एंटीमैटर। आप भी सोच रहे होंगे कि आखिर ये कैसी चीज है जो इतनी महंगी है। तो आइये आपको बताते हैं एंटीमैटर के बारे में...

आज के समय में महंगाई ने सबको परेशान कर रखा है। आपने सोने और हीरे की कीमत तो सुनी ही होगी। आज के समय में इनको खरीदने के लिए इंसान को अच्छा खासा पैसा खर्च करना पड़ता है। लेकिन इनसे भी महंगी एक ऐसी चीज दुनिया में जिसे खरीदने की औकात हर किसी के बाहर है। ये चीज इतनी कीमती है कि एक ग्राम की कीमत में करीब सौ छोटे देश को खरीदा जा सकता है।

सोने और हीरे से लाख गुना महंगी ये चीज है एंटीमैटर। ये दुनिया की सबसे महंगी चीज है। इसे प्रतिपदार्थ भी कहा जाता है। ये एक ऐसी चीज है जो कई प्रतिकणों को मिलाकर बनाया जाता है



एंटीमैटर को पाजिस्ट्रॉन, प्रति-प्रॉटान, प्रति-न्यूट्रॉन से बनाया गया है। ये प्रति-प्रोटॉन और प्रति-न्युट्रॉन प्रति क्वार्कों में बने होते हैं। इनकी एक ग्राम की कीमत में पाकिस्तान जैसे दो देश ख़रीदे जा सकते हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, एंटीमैटर के एक ग्राम की कीमत 31 लाख 25 हजार करोड़ रुपए है। अब सवाल उठता है कि ये आखिर इतना महंगा क्यों है। दरअसल, इसका जवाब नासा ने दिया है। ये लेख हिमाचली खबर से। इसे बनाने में काफी पैसे खर्च होते हैं इसलिए ये इतना कीमतों है। रिपोर्ट्स के मुताबिक़ 1 मिलीग्राम एंटीमैटर बनाने में 160 करोड़ रुपए खर्च होते हैं। साथ ही ये इतना कीमती है तो इसकी सुरक्षा में भी पैसे लगते हैं।

इसे नासा जैसे संस्थानों में रखा जाता है और इस तक पहुंचने के लिए कई सिक्युरिटी से गुजरना पड़ता है। बस कुछ ही लोग एंटीमैटर तक पहुंच पाते हैं। 

Post a Comment

Previous Post Next Post