खुशखबरी! YSR फ्री फसल इंश्योरेंस के तहत 9 लाख से ज्यादा किसानों के खाते में जमा किए 1,252 करोड़ रुपये

खुशखबरी! YSR फ्री फसल इंश्योरेंस के तहत 9 लाख से ज्यादा किसानों के खाते में जमा किए 1,252 करोड़ रुपये


YSR फ्री फसल इंश्योरेंस (YSR Free Crop Insurance) योजना के तहत आंध्र प्रदेश (Andhra pradesh) राज्य के सीएम वाए एस जगन मोहन रेड्डी (YS Jagan Mohan Reddy) ने 9 लाख से अधिक किसानों के खाते में 1,252 करोड़ रुपये जमा किए हैं. ये रकम उन किसानों के खाते में जमा की गई है जिनकी फसल 2019 में बर्बाद हो गई थी.

राज्य के सीएम ने कहा कि सरकार ने किसानों के कठिन समय में उनको सपोर्ट करने की जिम्मेदारी ली है. किसानों को प्रीमियम के बोझ से उबारने के लिए सरकार ने फ्री फसल इंश्योरेंस स्कीम लॉन्च की गई है. इसके पहले की सरकार में इंश्योरेंस स्कीम का लाभ उठाने के लिए किसानों को अपना हिस्सा देना पड़ता था.

इस नई योजना में अब किसानों को अपना हिस्सा देने की जरूरत नहीं है. सरकार ने पूरी रकम जमा करने का फैसला लिया है और किसानों की ओर से बीमा प्रीमियम का भुगतान किया. सीएम रेड्डी ने कहा कि साल 2016 2019 के बीच 3 सालों में पिछली सरकार ने बीमा प्रीमियम के लिए औसतन 393 करोड़ रुपये सालाना खर्च किए थे और किसानों ने सालाना करीब 290 करोड़ रुपये का भुगतान किया था.

वहीं पिछली TDP सरकार में 20 लाख किसान रजिस्टर्ड थे. हमारी सरकार में करीब 49.80 लाख किसानों को बीमा कवर के तहत लाया गया है. राज्य सरकार ने साल 2019-20 के दौरान प्रीमियम के लिए 971 करोड़ रुपये का भुगतान करने की जिम्मेदारी ली है. फसलों का बीमा स्वैच्छिक है.

बता दें कि फसलों को कुदरती कहर से होने वाले नुकसान से बचाने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) शुरू की थी. इस योजना को 13 जनवरी, 2016 को शुरू किया गया था. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत क्षेत्र के काफी किसान लाभ उठा रहे हैं. जिन किसानों को लगता है कि उनकी फसल में कहीं जोखिम हो सकता है, तब वह अपना फसल का बीमा करा सकते हैं. कर सकते हैं.

Post a Comment

Previous Post Next Post