OMG! दूल्हे ने शादी से पहले की घटिया डिमांड, ऐसा सबक सिखाई दुल्हन कि हर औरत को होगा गर्व

शादी का रिश्ता दो दिलो का मेल होता हैं. जब हम किसी से शादी करते हैं तो उसके पीछे की वजह एक अच्छे जीवनसाथी का साथ होता हैं. लेकिन कुछ लोग इस शादी को पैसा कमाने का एक जरिया समझ बैठते हैं. कहने को तो हमारा भारत देश आज दिन दुगुनी रात चोगुनी तरक्की कर रहा हैं. पूरी तरह डिजिटल बन रहा हैं. लेकिन आज भी कई लोग शादी के दौरान दहेज़ जैसी पुरानी कुप्रथा में उलझे हुए हैं. इस दहेज़ के चक्कर में कई लड़कियों की जिंदगी खराब हो जाती हैं. लड़की के माँ बाप को अपनी क्षमता से ज्यादा देना पड़ता हैं जिसकी वजह से उन्हें भी काफी तकलीफे होती हैं. जो व्यक्ति दजेह का लोभी होता हैं वो शादी के बाद भी लड़की को बार बार पैसो के लिए परेशान करता हैं. दहेज़ की वजह से कई बार बात मारपीट, मर्डर, सुसाईड या तलाक तक पहुँच जाती हैं. ऐसे में दहेज़ के इन लोभियों से शादी ना करने में ही लड़की की भलाई होती हैं.

दहेज़ से जुड़ा ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के हरदोई में देखने को मिला हैं. यहाँ एक दूल्हा सगा”ई होने के बाद शादी से पहले लड़की वालो से रोज नई नई डिमांड कर रहा था. ऐसे में जब दुल्हन उस दुल्हे को सबक सिखाने के लिए ऐसा काम कर दिया कि आप सभी का सीना गर्व से फूल जाएगा. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

दरअसल उत्तर प्रदेश के हरदोई के माध्यम वर्गीय परिवार के अजीज अहमद ने अपनी बेटी शाजिया की शादी बरेली के रहने वाले महबूब सैफी से तय की थी. बात पक्की होने के बाद शाजिया और महबूब की सगाई 29 सितंबर को हो गई थी. इनकी शादी 31 दिसंबर को होने वाली थी. जब दोनों पक्षों की बात पक्की हुई थी तो लेन देन को लेकर एक बाइक, नगदी और कुछ सामान की चर्चा हुई थी. लेकिन सगाई के बाद जैसे जैसे शादी की डेट नजदीक आने लगी दुल्हे की मांगे बढ़ने लगी. अब वे ज्यादा नगदी, चार पहियाँ वाहन और अन्य सामान की डिमांड करने लगा.

जब दुल्हन शाजिया को दुल्हे की इन मांगो के बारे में पता चला तो उसने शादी के एक महीने पहले विवाह रद्द कर दिया. शादी कैंसिल करने के साथ ही शाजिया ने पुलिस में भी अपने मंगेतर और उसके परिवार के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई. शाजिया का इस बारे में कहना हैं कि ‘रोज रोज ऐसे घुट के मरने से तो अच्छा हैं कि ऐसे दहेज़ के लालची लोगो के साथ शादी ही नहीं की जाए.

शाजिया ने दहेज़ लेने वालो से शादी तोड़ दूसरी महिलाओं के लिए एक शानदार मिसाल कायम की हैं. शाजिया का कहना हैं कि सभी लड़कियों को दहेज़ के लालची लोगो के घर में शादी नहीं करना चाहिए. जो व्यक्ति शुरुआत में ही इतनी मांगे करता हैं वो आगे चलकर भी आपको दुःख देगा. अपनी बेटी साजिया के इस फैसले से उनके माता पिता बहुत खुश हैं. 

Post a Comment

Previous Post Next Post