शोक में डूबा क्रिकेट जगत, इस दिग्गज खिलाड़ी का हुआ निधन...


क्रिकेट की दुनिया से समय-समय पर कई तरह की ख़बरें आती रहती हैं. इन्हीं के बीच कुछ खबरें ऐसी भी होती जो क्रिकेट प्रेमियों को चौंकाती तो हैं ही साथ ही दुख भी देती हैं. हाल ही में एक ऐसी ही ख़बर है न्यूज़ीलैंड से.

किसी भी क्रिकेटर को खेलते देखना जितना खूबसूरत अहसास होता है उतना ही दुखद होता है उस खिलाड़ी के दुनिया छोड़ कर चले जाने का दुख. किसी के चले जाने का दुख क्या होता है ये उसके चाहने वालों को ही महसूस होता हैं.

पूर्व कीवी क्रिकेटर जॉन रीड का निधन



न्यूज़ीलैंड के लिए क्रिकेट में अपना अहम योगदान देने वाले पूर्व क्रिकेटर जॉन फ़ुल्टन रीड का मंगलवार 29 दिसंबर को 64 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है. अपने 7 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में उन्होंने न्यूज़ीलैंड के लिए कई अहम मैचों में काफ़ी शानदार क्रिकेट खेली.

3 मार्च 1956 को ऑकलैंड में जन्मे जॉन रीड बाँए हाथ के एक बेहतरीन बल्लेबाज़ थे. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ़ मैच में न्यूज़ीलैंड की जीत में उनकी खेली गई 108 रन की पारी को आज भी उनके करियर की बेहतरीन पारियों में गिना जाता है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में था एक बेहतर रिकॉर्ड



रीड ने 23 फ़रवरी 1979 को ऑकलैंड में पाकिस्तान के खिलाफ़ अपना डेब्यू किया था. अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में रीड ने 19 मैचों में 46.28 के बेहतरीन औसत से 1296 रन बनाए. टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम 6 शतक और 2 अर्धशतक हैं.

इसके अलावा अपने वन-डे इंटरनेशनल करियर में रीड ने 25 मैचों में 27.52 के औसत से कुल 634 रन बनाए. जिसमें उनके 4 अर्धशतक भी शामिल हैं.

न्यूज़ीलैंड को कई अहम मौकों पर दिलाई जीत



न्यूज़ीलैंड क्रिकेट ने मंगलवार को ये पुष्टि करते हुए कहा कि पूर्व क्रिकेटर रीड पिछले लंबे समय से बीमार चल रहे थे. जिसके कारण मंगलवार 27 दिसंबर को 64 वर्ष की उम्र में उन्होंने अपनी आखिरी सांस ली.

1985 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ़ ब्रिसबेन में उनकी शतकीय पारी ने न्यूज़ीलैंड की पारी और 41 रन की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. न्यूज़ीलैंड की पहली पारी में उन्होंने मार्टिन क्रो के साथ उस समय रिकॉर्ड 225 रनों की साझेदारी की थी. इसी साझेदारी के दम पर न्यूज़ीलैंड 7 विकेट पर 553 रन का एक विशाल स्कोर बनाने में सफ़ल रही.

रीड जैसे बल्लेबाज़ का जाना क्रिकेटिंग अनुभव का दुनिया से जाना वाक़ई में न्यूज़ीलैंड क्रिकेट के लिए एक नुक़सान का क्षण है.

Post a Comment

Previous Post Next Post