जिन घर की औरतें करती हैं ऐसे काम, वहां कभी नहीं आती लक्ष्मी



कहते हैं घर की बेटी और बहू लक्ष्मी का रूप होती हैं. ये बात बिलकुल सत्य हैं. घर में बेटी का होना मतलब साक्षात लक्ष्मी जा प्रवेश माना जाता हैं. ये बेटियां बेटों से भी ज्यादा सुख और सम्रद्धि घर वालो को देती हैं.

जहाँ एक तरफ घर की बेटी शादी के बाद विदा होकर चली जाती हैं तो वहीँ दूसरी और किसी दुसरे की बेटी हमारे घर बहू बनकर प्रवेश करती हैं. इस तरह हमारे घर में लक्ष्मी का वास हमेशा बना रहता हैं.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि कई बार घर की बेटी, बहू, माँ या कोई अन्य महिला कुछ ऐसी बुरी आदतों में लीन हो जाती हैं कि लक्ष्मी माँ उनसे रुष्ट हो जाती हैं और वो उस घर में प्रवेश करने से हिचकिचाती हैं.

इसी बात का ख्याल रखते हुए आज हम आपको महिलाओं की वो बुरी आदतें बताने जा रहे हैं जिसके चलते उनके घर की लक्ष्मी चली जाती हैं. यदि आपके अन्दर भी ये आदतें हैं तो आपको इन्हें तुरंत बदलना चाहिए.

महिलाओं की इन आदतों के चलते घर में नहीं आती हैं लक्ष्मी

घर की साफ़ सफाई ना रखना : ये बात तो सभी जानते हैं कि लक्ष्मी माँ को वो घर सबसे अधिक प्रिय होता हैं जहाँ हमेशा साफ़ सफाई रहती हैं. लेकिन आजकल की नई जनरेशन अपने घर की साफ़ सफाई से जायदा खुद के सजने सवरने पर ज्यादा ध्यान देती हैं.

ये लोग खुद को तो साफ़ सुथरा रखते हैं लेकिन अपने घर की सफाई की तरफ ध्यान नहीं देते हैं. महिलाओं की इन आदतों के चलते घर में गंदगी एकत्रित होने लगती हैं और लक्ष्मी जी रूठ के चली जाती हैं.

नियमित पूजा पाठ ना करना : हर घर की खुशहाली के लिए सुबह शाम दीपक और अगरबत्ती लगना चाहिए. ऐसा करने से घर में सकारात्मक माहोल ऊर्जा आती हैं. लक्ष्मी माँ को सकारात्मक माहोल में रहना पसंद हैं. वहीँ जिस घर की औरते पूजा पाठ की ओर ध्यान नहीं देती हैं वहां नकारात्मक ऊर्जा आने लगती हैं और लक्ष्मी माँ ऐसे घर में रहना पसंद नहीं करती हैं.

आलस और लड़ाई झगड़े का माहोल : जो औरते घर में शाम के वक़्त भी सोई रहती हैं, कामो को निपटाने में आलसी करती हैं, घर के सदस्यों से बात बात पर लड़ाई झगड़ा करती हैं वहां का माहोल सबसे अधिक नेगेटिव हो जाता हैं. ऐसे घरो से लक्ष्मी माँ दूर ही रहना पसंद करती हैं.

दया और दान दक्षिणा का भाव ना होना : कुछ महिलाएं बड़ी ही कंजूस होती हैं. वे कभी किसी को कोई दान नहीं करती हैं. मंदिर जाने पर भी इनकी जेब से भगवान के नाम का एक रुपया भी नहीं निकलता हैं.

यदि घर के बाहर गाय या कुत्ता आ जाए तो ये उसे भी मार के भगा देती हैं. इस तरह के व्यवहार वाली महिलाओं से लक्ष्मी माँ सख्त नफरत करती हैं. ऐसा नहीं हैं कि आप अधिक दान करे बल्कि अपनी श्रृद्धा भक्ति से किया गया छोटा सा दान भी काफी हैं.

बस इस बात का ध्यान रखे कि आपका मन साफ़ हो और आप सभी के लिए दयालु प्रवत्ति अपनाए.


Post a Comment

Previous Post Next Post