क्या करें जब घर में उग आये पीपल का पौधा जानें शुभ है या अशुभ

Peepal at home: घर में पीपल का पौधा उग आए तो क्या करें ! Boldsky - YouTube

आपने कई बार देखा होगा कि हमारे घर के आस-पास या दीवारों पर भी कई बार पीपल का पौधा उग आता है. हालांकि पेड़- पौधे हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण होते हैं. पेड़- पौधे न सिर्फ हमें स्वस्थ रखने में मदद करते हैं बल्कि यह घर में पॉजिटिव एनर्जी भी बनाए रखने में मदद करते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वास्तु और ज्योतिष के अनुसार पेड़- पौधे के शुभ प्रभाव से हमारे घर में सुख- समृद्धि का समावेश हमेशा बना रहता है.

लेकिन कुछ पेड़- पौधे ऐसे भी होते हैं जो खुद ही कहीं भी उड़ जाते हैं और नकारात्मक शक्तियों को जन्म देते हैं ऐसा ही एक पौधा है पीपल का.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पीपल का पौधा घर में रखने से अशोकता का संचार होता है. यह तो हम सभी जानते हैं कि पीपल की छाया शीतलता प्रदान करती है. लेकिन सच यह भी है कि इसे घर में रखने से निर्धनता उत्पन्न होती है. यही नहीं परिवार के सदस्य कभी तरक्की नहीं कर पाते हैं और आए दिन उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

गौरतलब है कि आपके घर के बाहर भी पीपल का पेड़ है या फिर उसकी छाया घर पर भी पड़ रही है तो यह वंश वृद्धि में बहुत सारी समस्याएं पैदा कर सकती है और साथ ही वैवाहिक जीवन में भी क्लेश उत्पन्न कर सकती है. बता दें कि ऐसा स्थान हमेशा निर्जन ही रहता है.

क्या करें जब घर में पीपल उगाए ?
यदि भूलकर भी आपके घर में पीपल उग आता है तो उसे बिल्कुल भी ना काटे. क्योंकि ऐसा करने से आपकी पितरों को कष्ट हो सकता है तथा वंश वृद्धि की हानि भी हो सकती है. हालांकि किसी विशेष प्रयोजन से विधिवत नियमानुसार पूजन करने तथा यज्ञ आदि पवित्र कार्यों के लक्ष्य से पीपल की लकड़ी काटने पर दोष नहीं लगता है. इस बात का विशेष ध्यान रखें कि पीपल के पेड़ को अगर काटना बहुत जरूरी हो जाए तो उसे रविवार के ही दिन काटे वही घर की पूर्व दिशा में पीपल का पेड़ लगा हो तो इससे घर में भय और निर्धनता आती है.

आपको बताते चलें कि पौराणिक कथाओं के अनुसार पीपल के पेड़ में सभी देवताओं का वास होता है. शायद इसी कारण पीपल पेड़ को ब्रह्म का कर संबोधित किया जाता है. ऐसी मान्यता है कि पीपल के मूल में भगवान श्री विष्णु, तने में भगवान शिव तथा अग्रभाग में भगवान ब्रह्मा का वास होता है. यही नहीं सनातन धर्म में पीपल वृक्ष को देवों का देव जी कहा जाता है. इसलिए इस पेड़ को पूजनीय माना गया है.

Post a Comment

Previous Post Next Post