अगर आपको भी पूरी करनी है अपनी कोई भी मनोकामना तो कागज में लिखकर करें ये टोटका




आज कल के समय में हर किसी को कोई न कोई परेशानी जरूर रहती है। ऐसा कोई भी व्‍यक्ति नहीं है जो सुखी और सम्‍पन्‍न है क्‍योंकि हर व्‍यक्ति को आगे जाने की और आसमान छूने की चाहत रखते हैं इसी वजह से उन्‍हें कई सारी समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। यही कारण है कि व्‍यक्ति परेशनियों से बचने के लिए वह हर किसी काम को पूरा करने की कोशिश भी करता है लेकिन कई बार वो चाहकर भी इस चीज में सफल नहीं हो पाता है। वहीं कई बार आपकी कुछ ऐसी इच्छाएं होती हैं जिन्हें चाहकर भी आप पूरा नहीं कर पाते।

ऐसे में शास्त्रीय उपाय आपकी मदद कर सकते हैं। इसी कारण आज हम आपको कुछ ऐसे कुछ उपायों के बारे में जिन्हें करने के बाद आप हाथों हाथ पा सकते हैं। मनोकामना पूर्ति और दुर्भाग्य दुर करने के लिए यहां बताए गए इन उपायों को आप आसानी से कर सकते हैं। ये तुरंत असर दिखाने वाले उपाय हैं, हो सकता है 24 घंटे के अंदर ही आपकी इच्छा पूरी हो जाए।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हर कोई अपने जीवन में परेशानियों से जल्‍द से जल्‍द दूर होना चाहता है और इस उपाय को करने के बाद आपकी ये इच्‍छा भी पूरी हो सकती है ये इतना सरल है कि इसे कोई भी कर सकता है। और साथ ही आपके जीवन में जो भी परेशानियां है वह तो कम होंगी ही वहीं साथ में अगर आपकी कोई मनोकामना है तो वो भी पूरी हो जाएगी। वैसे आपको बता दें कि ये उपाय तो कई तरह से किये जाते है लेकिन करने से पहले इस उपाय को ध्यान रहे कि आपको इसके बारे में अच्‍छे से जानकारी हो जानी चाहिए तभी आप इस उपाय को करें। ध्‍यान रहे कि ये उपाय आप सिर्फ शाम के समय ही कर सकते हैं।


तो आइए जानते हैं वो उपाय
इसके लिए आपको सबसे पहले एक सफ़ेद कागज लेना होगा और उसके साथ ही आप उस कागज पर अपनी परेशानी या फिर आपकी जो भी मनोकामना हो उसे लिख दें उसके बाद आप थोडा सा गुगुल और लोबान लेकर गाय के उपले के ऊपर उसे रख दें और फिर उस कागज को जला दें, अगर आपको गाय के उपले न मिले तो आप थोड़ा थोडा लोबान एंव गुगुल किसी भी चीज में जला सकते है।


आपको यह प्रयोग किसी लोहे के चीज पर करनी है क्‍योंकि जब आप दोनों चीजों को रखेंगे और उसे जलाएंगे तो ये बिलकुल उसी प्रकार जलेगा जिस प्रकार धुप बत्ती जलती है और साथ ही यह भी ध्‍यान रखना है कि ये प्रयोग आपको घर के अन्दर ही करना है और प्रयोग करते समय भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की प्रतिमा को सामने रख कर ही करना है।

अब आप इस प्रयोग को करते समय जब धुप को जला लेंगे तो उसके बाद अपनी आंखें बंद करके मन ही मन जो भी आपने उस कागज के उपर लिखा हुआ होगा उसे आधे घंटे तक या फिर 15 मिनट तक बोलना है। और ध्‍यान रहे कि ये उपाया आपको शाम के करीब 7 बजे के आस पास करना है। इस उपाय के करने के कुछ ही समय बाद आपको फर्क नजर अाने लगेगा।


Post a Comment

Previous Post Next Post