इन चीज़ों को कभी ना करें दान, वरना होगा अपना ही नुकसान

 दान करना यूं तो बहुत पुण्य का काम है।

सभी धर्मों में दान को महत्वपूर्ण माना गया है और इसकी महिमा बताई गई है। लेकिन दान करते वक्त ये ध्यान रखना चाहिए कि आप क्या दान कर रहे हैं और इसका आप पर क्या असर हो सकता है?

अक्सर अनजाने में हम कुछ ऐसी चीज़ें दान कर देते हैं जो हमारा ही नुकसान करती हैं और हमारे जीवन पर बुरा असर डालती हैं।

आइए आपको बताते हैं कि वो कौन सी चीज़े हैं जिन्हे दान करने से आपको फायदे की जगह नुकसान होगा और जिन्हे आपको कभी दान नहीं करना चाहिए।

पहने हुए कपड़े-

पुराने कपड़े कभी भी पंडित को दान नहीं करना चाहिए। अगर आप इन कपड़ों को किसी गरीब को दे रहे हैं तो ये उचित है लेकिन किसी भी ब्राह्मण को पुराने कपड़ों का दान कभी नहीं करना चाहिए।

झाड़ू-

किसी भी व्यक्ति को कभी झाड़ू दान नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से माता लक्ष्मी नाराज़ होती हैं और घर में धन की कमी होने लगती है। इसलिए झाड़ू कभी दान नहीं करना चाहिए।

प्लास्टिक की वस्तुएं-

घरेलू उपयोग के लिए अगर आप प्लास्टिक की चीज़ों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसमें कुछ गलत नहीं है लेकिन कभी भी प्लास्टिक की वस्तुएं दान नहीं करनी चाहिए। इससे व्यापार और करियर में नुकसान होता है।

स्टील के बर्तन-

ऐसा कहा जाता है कि स्टील के बर्तन भी कभी दान नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से घर की सुख-शांति खत्म होती है और बेवजह झगड़े और क्लेश बढ़ जाता है।

खराब खाना-

किसी भी व्यक्ति को खाना दान करना, उसकी भूख मिटाना बहुत ही पुण्य का कार्य होता है लेकिन अगर आप किसी इंसान को खराब खाना दे रहे हैं तो ये आपके लिए बुरा साबित हो सकता है। याद रखें कि जिस खाने को आप खुद नहीं खा सकते, उसे किसी अन्य को भी नहीं खिलाना चाहिए।

नुकीली चीज़े-

कभी किसी व्यक्ति को नुकीली चीज़े दान नहीं करना चाहिए। इससे घर में लोगों के बीच तनाव उत्पन्न होता है और परिवार में सुख-शांति का अभाव हो जाता है।

उपयोग में लाया गया तेल-

अक्सर आपने लोगों को तेल दान करने हुए देखा होगा। तेल दान करना वैसे तो अच्छा माना जाता है लेकिन खराब या फिर इस्तेमाल किया गया हुआ तेल कभी किसी को दान नहीं करना चाहिए।

फटी कॉपी किताबें-

पढ़ाई से जुड़ी चीज़े दान करना शुभ माना जाता है लेकिन अगर आप किसी को फटी कॉपी किताबें देते हैं तो इससे आपको नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

दान करना

तो इन बातों का ध्यान रखें और दान करते समय इनमें से किसी भी चीज़ का दान ना करें। दान बहुत श्रेष्ठ कर्म है लेकिन दान का उचित फल आपको तभी मिलेगा जब आप सही चीज़ों का दान करेंगे अन्यथा दान का प्रभाव विपरीत भी हो सकता है। दान अवश्य करें, लेकिन किसी भी ऐसी वस्तु का दान ना करें जो आपको फायदें की जगह नुकसान पहुंचाए।

Post a Comment

Previous Post Next Post