क्या बिहार में शराबबंदी कानून बना मजाक? पुलिसकर्मी फिर से लेंगे शराब न पीने की कसम

दादा ने नवजात के नाम की संपत्ति तो चाचा-चाची ने गायब कर टंकी में फेंक जान  ली – News India Live, India news, News India, Live news, Live India

बिहार में शराबबंदी कानून के मजबूती से पालन के लिए तमाम पुलिसकर्मी एक बार फिर से शऱाब नहीं पीने की लेंगे शपथ. राज्य में जारी शराबबंदी कानून के बावजूद पुलिसवालों के शराब पीने, इसके अवैध कारोबार में शामिल होने की हर दिन कई शिकायतें मिलती हैं. ऐसे में इस मामले को बंद करने को लेकर सीएम नीतीश कुमार ने एक बार फिर से आदेश जारी किया है और मुख्यमंत्री के आदेश को आगे बढ़ाते हुए डीजीपी ने इस संबंध में सभी जिलों के एसपी,रेल एसपी को पत्र लिखा है.


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिए ये निर्देश


मुख्यमंत्री के निर्देश का जिक्र का डीजीपी ने अपने पत्र में उल्लेख किया है उसके अनुसार 9 दिसंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मद्य निषेध को लेकर बैठक की थी. इस बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया था कि बिहार के सभी पुलिसकर्मी 21 दिसंबर को शऱाब नहीं पीने की शपथ लें. 21 दिसंबर को पूरे बिहार के पुलिसकर्मी 11 बजे अपने दफ्तर में शऱाब नहीं पीने,शराब के कारोबार में शामिल नहीं होने की शपथ लें.


राज्य में शराबबंदी कानून को मजाक बनाने में पुलिसकर्मियों की भूमिका


बताते चलें कि बिहार के पुलिसकर्मी इसके पहले भी शराब नहीं पीने की कसम खा चुके हैं बावजूद इसके बिहार के पुलिसकर्मियों पर कोई असर नहीं पड़ रहा है. पुलिस के शऱाब पीने, शराब के कारोबार में शामिल होने की हर दिन कई शिकायतें मिलती हैं. शराबबंदी कानन लागू रहने के बावजूद भी बिहार में शराब का कारोबार फल फूल रहा है. इस धंधे में पुलिसकर्मी भी अप्रत्यक्ष रूप से शामिल रहते हैं. लगातार मिल रही शिकायतों और विपक्ष के लगातार हमले के बाद एक बार फिर से मुख्यमंत्री ने सभी पुलिस कर्मियों को शराब नहीं पीनें की शपथ लेने का निर्देश दिया है.अब मुख्यमंत्री की ये मुहिम कितनी कारगर साबित होती है ये देखने वाली बात होगी.

Post a Comment

Previous Post Next Post