सुहागिनें सावधान ! अगर ऐसे पहनती हैं पांव में बिछिया तो पति हो जाएंगे परेशान_____-

हम सभी जानते हैं कि हिंदु धर्म में कई सारी परंपराएं व संस्‍कृतियों को फॉलोव करना पड़ता है जो सालों से रिति रिवाज के रूप में चले आ रहे हैं। जिनमें से कुछ ऐसे रिवाज है जो विशेषकर महिलाओं के लिए बने हैं जी हां आपको बता दें कि भारतीय रिति रिवाजों के अनुसार जिन महिलाओं की शादी हो जाती है वो अपने पैर में बिछिया पहनती हैं जी हां माना जाता है कि सिर्फ सिर्फ़ शादीशुदा औरते ही बिछिया पहनती है वहीं इसे अविवाहित लड़कियां धारण नही करती हैं।

इतना ही नहीं इसके पीछे का कारण बताया जाता है कि इसको धारण करने से महिलाओं का मासिक चक्र नियमित रुप से होता है इतना ही नहीं इसके अलावा ये भी बताया जाता है कि इसके धारण करने से गर्भधारण के समय किसी भी तरह की परेशानी नहीं आती है भले ही आपको ये बातें बेतुकी लग रही हो लेकिन ये परंपरा प्राचीन समय से चली आ रही है हालांकि आज के समय में कई लोग इसे फॉलोव नहीं करते हैं। लेकिन क्‍या आपको ये पता है कि अगर बिछिया को सही तरीके से नहीं धारण किया जाए तो वो उस महिला के पति के बर्बादी का कारण भी बन सकती हैं। जी हां और आज हम आपको इसी के बारे में कुछ विशेष बातें बताने जा रहे हैं।




सबसे पहले तो आपको ये बता दें कि महिला के पैर की दूसरी उंगली की अंगुली की तन्त्रिका सीधा संबध गर्भाशय से होता है जो कि हृदय से होकर गुजरती है , आपने अगर ध्‍यान दिया होगा तो आपको पता होगा कि महिलाएं बिछिया केवल पैर के दाहिने तथा बायें पैर की दूसरी अंगुली में ही पहनती हैं, क्योंकि यह गर्भाशय को नियन्त्रित करेगी और गर्भाशय में सन्तुलित रक्तचाप द्वारा उसे स्वस्थ रखेगी।

वहीं अगर हिंदु धर्म के रिवाजों की मानें तो कहा जाता है कि बिछिया के बिना हर सिंगार अधुरा रहता है। इतना ही नहीं इसे पहनने का एक दूसरा कारण यहा है कि इसे पहनने से सूर्य और चंद्रमा का प्रतिक माना जाता है, सूर्य और चंद्र की कृपा आप पर बनी रहे इसीलिए भी महिलाएं बिछिया पहनती हैं। इसके अलावा ये जरूर ध्‍यान रखना चाहिए की कभी भी सोने का बिछिया पैरों में नहीं पहनना चाहिए हमेशा चांदी का बिछिया ही पैरों में पहने।




अब सबसे विशेष और अंतिम बात ये है कि बिछिया पहनते समय ध्यान रहे कि ये आपकी पैर की ऊंगली में से कहीं भी गुम नहीं होना चाहिए और इसके अलावा कभी भूल से भी अपना पहना हुआ बिछिया किसी ओर को उतार कर नहीं देना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपके पति बिमार पड़ सकते है। हो सकता है कि आपके घर में कई सारी परेशानियां भी प्रवेश करने लगे और तो और पति पर भारी कर्ज भी हो सकता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post